महानगर के बच्चों में बढ़ रहा वायरल निमोनिया

सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाताः कोलकाता में बच्चों में वायरल निमोनिया भी अचानक काफी बढ़ रहा है। पार्क सर्कस के निजी अस्पताल में 20 बच्चे इस मामले को लेकर ही भर्ती हैं। इसमें 20 में से 8 बच्चे आईसीयू में भर्ती हैं। कई बच्चों को बुखार, खांसी और सांस लेने में तकलीफ के साथ अस्पताल में भर्ती कराया गया था। सभी बीमार बच्चे डेंगू, मलेरिया, कोरोना नेगेटिव हैं। डॉक्टर प्रभास प्रसून गिरी ने कहा कि यह वायरल निमोनिया आमतौर पर सर्दी की शुरुआत या अंत में देखा जाता है। उनके मुताबिक घर के बड़ों पर वायरस के हमले हो रहे हैं, वहीं से बच्चे संक्रमित हो रहे हैं। ऐसे में उनकी सलाह है कि बड़ों के संक्रमित होने पर बच्चों से दूरी बनाकर रखें, मास्क जरूर पहनें। वरिष्ठ पेडियाट्रिशियन डॉ.एन.के. तापड़िया ने कहा कि इस बार वायरस काफी आक्रामक तौर पर बच्चों को प्रभावित कर रहा है। हालांसि यह मौसमी वायरस ही है। अगर बच्चे ज्वर से ग्रसित हैं तो डॉक्टर से सलाह लें।
कोलकाता मेडिकल में 6 बच्चे आईसीयू में
कोलकत्ता मेडिकल कॉलेज व अस्पताल में बुखार से पीड़ित बच्चों की संख्या बढ़ती जा रही है। 6 बच्चे आईसीयू में भर्ती हैं। 6 में से 4 लोगों की हालत नाजुक बतायी जा रही है। इसके अलावा सिर्फ 4 बच्चों को वेंटिलेशन पर रखा गया है। अधिकांश बच्चे आरएस वायरस से संक्रमित होते हैं। बच्चों को माता-पिता द्वारा संक्रमित किया जा रहा है।” भर्ती होने वाले बच्चों में से 20-25 प्रतिशत आईसीयू में भर्ती हैं। उनमें से ज्यादातर को सांस की तकलीफ के लिए आईसीयू की जरूरत लगती है। इसके लिए हाई फ्लो ऑक्सीजन थेरेपी दी जा रही है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

तृणमूल में जाने की चर्चाओं को नकारा अशोक लाहिड़ी ने

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : विधानसभा चुनाव के नतीजे आने के बाद से ही प्रदेश भाजपा में टूट जारी है। सांसद बाबुल सुप्रियो समेत कई विधायक अब आगे पढ़ें »

ऊपर