मवेशी तस्करी में विनय मिश्रा को 8वां अभियुक्त बनाया गया

सप्लिमेंटरी चार्जशीट दायर
कोलकाता : सीबीआई ने मवेशी तस्करी मामले में बुधवार को व्यवसायीविनय मिश्रा को एक अहम कड़ी मानते हुए 8वां अभियुक्त बनाया। सीमा पर हुए इस मवेशी तस्करी के मामले में आसनसोल जिला अदालत स्थित सीबीआई कोर्ट में विनय मिश्रा के खिलाफ सप्लीमेंट्री चार्जशीट दाखिल की गयी। अदालत में दायर किये गये उक्त आरोपपत्र में फरार बिनय मिश्रा का न सिर्फ नाम दिया गया था बल्कि उनके बारे में कहा गया है कि उनके इनामुल के साथ घनिष्ट संबंध भी थे। यही कारण है कि मवेशी तस्करी मामले में सीबीआई ने जैसे ही अपनी जांच की गति आगे बढ़ाई, विनय मिश्रा फरार हो गये।
भगोड़ा किया गया है घोषित
इस मामले में सीबीआई काफी दिनों से विनय मिश्रा की तलाश कर रही है। बता दें कि अभी हाल ही में सीबीआई ने कोर्ट में 7 आरोपियों के खिलाफ चार्जशीट दाखिल किया था, जिसमें कुख्यात मवेशी तस्कर इनामुल हक व उसकी पत्नी, सतीश कुमार व उसकी पत्नी, अनरुल शेख, गुलाम मुस्तफा तथा सतीश कुमार के ससुर का नाम था। उस आरोप पत्र में विनय मिश्रा का नाम नहीं था। सीबीआई सूत्रों ने बताया कि जांच के क्रम में विनय मिश्रा इस प्रकरण के अहम कड़ी के रूप में सामने आये हैं। सीबीआई का मानना है कि रुपयों के लेनदेन में यह भी एक कड़ी मजबूत कड़ी है। इसलिए उसका नाम इस पूरक आरोप पत्र के माध्यम से शामिल किया गया है। इस मामले में कुख्यात मवेशी तस्कर इनामुल हक अभी भी आसनसोल जेल के न्यायिक हिरासत में मौजूद है। उसे 1 मार्च को पुनः आसनसोल जिला अदालत के सीबीआई कोर्ट में पेश किया जाएगा। वहीं सीबीआई के हाथों गिरफ्तार बीएसएफ कमांडेंट सतीश कुमार फिलहाल जमानत पर बाहर है। बताया जाता है कि उक्त मामले पर सीबीआई द्वारा चार्जशीट दाखिल होने के कारण इस कांड में शामिल अन्य आरोपियों की मुश्किलें और भी बढ़ गई हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

गर्मियों में इस वजह से झड़ते हैं ज्यादातर लोगों के बाल

  गर्मियों में बालों की झड़ने की समस्या आम बात है लेकिन जब आपके बाल रोजाना बहुत ज्यादा मात्रा में झड़ने लगे, तो समझिये आपको हेयर आगे पढ़ें »

चुनाव आयोग के फैसले के खिलाफ धरने पर बैठीं ममता बनर्जी

कोलकाताः विवादित बयानों की वजह से चुनाव आयोग द्वारा ममता बनर्जी के चुनाव प्रचार पर लगाए गए प्रतिबंध के खिलाफ उन्होंने मंगलवार को धरना शुरू आगे पढ़ें »

ऊपर