सुसाइड प्वाइंट बनता जा रहा है विद्यासागर सेतु

हावड़ा ब्रिज पर रेलिंग लगने के बाद यहां पर लोगों की संख्या बढ़ी
पिछले दो महीने में 5 लोगों को पुलिस ने आत्महत्या करने से बचाया
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : रविवार की सुबह से राज्य भर में जारी लॉकडाउन के बीच विद्यासागर सेतु से एक व्यवसायी द्वारा छलांग लगाने की घटना ने एक बार फिर वहां की सुरक्षा व्यवस्था पर सवाल खड़े कर दिए हैं। खासतौर पर लॉकडाउन के दिन जब शहर के हर जगह पर नाका चेकिंग चल रही थी। ऐसे में व्यवसायी कैसे अपनी कार लेकर विद्यासागर सेतु पर पहुंचा और फिर कैसे पुलिस कर्मियों की नजर से बचकर सेतु से गंगा नदी में छलांग लगा दी। इस घटना से साफ प्रतीत हो रहा है कि अब विद्यासागर सेतु महानगर का सुसाइड प्वाइंट बनता जा रहा है। खासतौर पर हावड़ा ब्रिज पर पोर्ट ट्रस्ट द्वारा रेल‌िंग की ऊंचाई बढ़ाए जाने के बाद विद्यासागर सेतु से गंगा छलांग लगाने की घटनाओं में काफी वृद्ध‌ि दर्ज की गयी है। हाल ही में विद्यासागर सेतु पर स्टंट वीडियो बनाते वक्त दो युवकों ने गंगा नदी में छलांग लाग दी थी। उस घटना में एक युवक की मौत हो गयी थी। वहीं दूसरा युवक बुरी तरह घायल हो गया था। इस घटना के बाद पुलिस ने विद्यासागर सेतु पर निगरानी बढ़ा दी थी। सुबह से लेकर रात तक पुलिस की बाइक पेट्रोलिंग की टीम वहां पर गश्त लगाती थी। इसके अलावा एनवीएफ और सिविक वाल‌ंटियर कर्मी भी वहां रेलिंग किनारे पहुंचने वाले लोगों पर नजर रखते हैं और लोगों की संदिग्ध गतिविध‌ि देख उन्हें पकड़कर थाने ले जाते हैं।
पुलिस ने विद्यासागर सेतु पर नेट लगाने का दिया प्रस्ताव !
पुलिस सूत्रों के अनुसार हावड़ा ब्रिज पर रेल‌िंग लगने के बाद विद्यासागर सेतु पर आत्महत्या के लिए आने वाले लोगों की संख्या बढ़ गयी है। पुलिस के अनुसार दो युवकों द्वारा स्टंट के लिए गंगा नदी में छलांग लगाने की घटना के बाद विद्यासागर सेतु पर निगरानी बढ़ा दी गयी है। पुलिस सूत्रों के अनुसार बीते दो महीने में 5 लोगों का उद्धार किया गया है। यह सभी लोग आत्महत्या करने के इरादे से विद्यासागर सेतु पर पहुंचे थे। इनमें झाड़ग्राम की रहनेवाली एक महिला भी शामिल थी। पुलिस सूत्रों के अनुसार व‌िद्यासागर सेतु से छलांग लगाने की घटना बढ़ने पर सरकार ने ब्र‌िज की देखरेख करने वाली संस्था को वहां पर नेट लगाने का प्रस्ताव दिया था। पुलिस सूत्रों के अनुसार हाल ही में ब्रिज के रेलिंग के ऊपर नेट लगाने का प्रस्ताव दिया गया है। यह प्रस्ताव ब्रिज के डिजाइन के मदद्नेजर दिया गया ताकि नेट लगाने के बाद ब्रिज पर कोई बोझ न पड़े और उसके चलते कोई नुकसान न हो। पुलिस के अनुसार हावड़ा ब्रिज पर रेलिंग की ऊंचाई बढ़ने के बाद अब सभी लोग सुसाइड के लिए विद्यासागर सेतु पर पहुंच रहे हैं। अधिकतर लोग पुलिस की नजर से बचने के लिए खाली प्वाइंट पर उतर कर छलांग लगा दे रहे हैं। रविवार की सुबह भी बालीगंज के व्यवसायी ने इसी तरह छलांग लगायी थी। पुलिस के अनुसार उनके द्वारा भेजे गए प्रस्ताव पर जल्द ही राज्य सरकार द्वारा विचार कर यहां पर काम चालू किया जाएगा।

शेयर करें

मुख्य समाचार

‘ट्रांसजेंडर होने के कारण नहीं हुआ मेरा कोविड टेस्ट’

मानवी ने की शिकायत, कहा, मानसिक तौर पर टूट गयी हूं सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : केवल ट्रांसजेंडर महिला होने के कारण मेरा कोविड टेस्ट नहीं हो आगे पढ़ें »

उत्तर बंगाल को नहीं होने देंगे केंद्र शासित केंद्र : ममता

कोलकाता : केंद्र सरकार द्वारा उत्तर बंगाल को केंद्र शासित केंद्र करने की योजना पर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी जमाकर भड़की है। ममता ने साफ कहा आगे पढ़ें »

ऊपर