पश्चिम बंगाल में 24 विश्वविद्यालयों के कुलपतियों की नियुक्ति बिना मंजूरी लिए की गई : राज्यपाल

कोलकाता : पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने गुरुवार को दावा किया कि राज्य में 24 विश्वविद्यालयों के कुलपतियों की नियुक्ति उनकी मंजूरी के बिना या आदेशों की अवहेलना करते हुए की गई। धनखड़ कलकत्ता विश्वविद्यालय, जादवपुर विश्वविद्यालय और प्रेसीडेंसी विश्वविद्यालय सहित राज्य द्वारा संचालित विश्वविद्यालयों के पदेन कुलाधपति हैं। राज्यपाल ने ट्वीट किया, ‘कानूनों की अवहेलना करते हुए 24 विश्वविद्यालयों के कुलपतियों की नियुक्ति की गई। ऐसा विशिष्ट आदेशों की अवहेलना करते हुए या कुलाधिपति-नियुक्ति प्राधिकारी के अनुमोदन के बिना किया गया है।’ उन्होंने कहा, ‘इन नियुक्तियों के लिए कोई कानूनी मंजूरी नहीं ली गई है और अगर जल्द ही इन्हें वापस नहीं लिया जाता तो मजबूरन कार्रवाई की जाएगी।’ इस महीने की शुरुआत में राजभवन में राज्यपाल द्वारा बुलाई गई बैठक में निजी विश्वविद्यालयों के कुलाधिपति और कुलपति के शरीक नहीं होने के बाद यह चेतावनी दी गई है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

बड़ी खबर : पद्म पुरस्कारों का ऐलान, बुद्धदेव भट्टाचार्य को पद्म भूषण और पी. आर. अग्रवाल को पद्मश्री

कोलकाता : इस वक्त की बड़ी खबर आ रही है कि गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर पद्म पुरस्कारों का ऐलान कर दिया गया है। आगे पढ़ें »

ऊपर