टीकाकरण फिर शुरू, ‘कोविन पोर्टल’ में आई तकनीकी परेशानी

स्वास्थ्य विभाग का निर्देशः ताकि वैक्सीन डोज की एक बूंद भी न हो बेकार
कोलकाताः पश्चिम बंगाल के 207 स्थलों पर सोमवार को कोविड-19 टीकाकरण अभियान एक बार फिर शुरू हुआ, जहां कोरोना वायरस के खिलाफ अभियान में अग्रिम मोर्चे पर तैनात अधिकतर कर्मियों को टीके लगाए जा रहे हैं।
टीकाकरण के पहले दिन का लक्ष्य पूरा नहीं हुआ था। बड़ी मात्रा में टीकों के बचने व बेकार होने के आरोप सामने आए थे। इसके बाद स्वास्थ्य भवन ने राज्य के टीकाकरण केंद्रों को दिशा-निर्देश भेजे हैं। इसमें कहा गया है कि किसी भी तौर पर कैक्सीन नुकसान नहीं होनी चाहिए।
स्वास्थ्य विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि अनेक स्थलों पर ‘कोविन पोर्टल’ में कुछ तकनीकी परेशानियां सामने आईं। इसके बाद स्वास्थ्य अधिकारियों ने दस्तावेजीकरण और आवंटन की प्रक्रिया हाथ से लिखकर पूरी की। अधिकारी ने कहा, ‘‘ टीकाकरण अभियान सुबह करीब नौ बजे शुरू हुआ। हम उम्मीद कर रहे हैं, जो लोग पहले दिन नहीं आए वे आज आएंगे। जिन लोगों को एसएमएस संदेश भेजे गए थे, उनमें से अधिकतर लोग केन्द्र पहुंच चुके हैं। हरेक केन्द्र पर आज करीब 100 लोगों को टीके लगेंगे।’’ उन्होंने कहा, ‘कोविन पोर्टल’ काम नहीं कर रहा है। हमें आवंटन, लाभार्थियों की सूची तैयार करने और संदेश भेजने में परेशानी हो रही है।’ उन्होंने बताया कि स्वास्थ्य अधिकारियों ने इससे निपटने के लिए चौबीस घंटे काम किया। अधिकारी ने बताया कि पश्चिम बंगाल में शनिवार को 75.9 प्रतिशत टीकाकरण हुआ था, जहां चार जिलों में पंजीकृत सभी लोग टीका लगवाने पहुंचे थे। वहीं पांच जिलों में 90 प्रतिशत पंजीकृत लोगों ने टीका लगवाया। राज्य में शनिवार को एईएफआई (टीकाकरण के बाद प्रतिकूल प्रभाव) के 14 मामले सामने आए थे।

शेयर करें

मुख्य समाचार

‘भवानीपुर के बजाय आपकी स्कूटी नंदीग्राम में लैंड हो गयी’

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : पिछले सप्ताह मुख्यमंत्री ममता बनर्जी द्वारा पेट्रोल व डीजल के दाम में वृद्धि का प्रतिवाद करने के लिए की गयी स्कूटी की आगे पढ़ें »

हेरोइन तस्कर के साथी से 60.97 लाख रुपये जब्त

सन्मार्ग संवादादाता कोलकाता : हेरोइन तस्करी के आरोप में गिरफ्तार अ‌भ‌ियुक्त की निशानदेही पर कोलकाता पुलिस के एसटीएफ अधिकारियों ने 60.97 लाख रुपये जब्त किया है। आगे पढ़ें »

ऊपर