मोबाइल टॉवर लगाने के नाम पर करते थे ठगी, 3 गिरफ्तार

सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : मोबाइल टॉवर लगाने के नाम पर लोगों से लाखों रुपये की ठगी करने वाले जालसाजों के गिरोह का सीआईडी अधिकारियों ने भंडाफोड़ किया है। सीआईडी के एसओजी की टीम ने मामले में तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। अभियुक्तों के नाम अनिर्वाण मुखर्जी, तृषा पाल और शुभंतर चुनारी हैं। इनमें से अनिर्वाण और तृषा उत्तर 24 परगना एवं शुभंकर पूर्व बर्दवान जिले का रहनेवाला है। सीआईडी अधिकारियों ने तीनों को बारासात के कालीबाड़ी मोड़ से पकड़ा है। सीआईडी अधिकारियों के अनुसार रामनगर थाने में एक व्यक्ति ने गत 10 जनवरी को शिकायत दर्ज करायी थी कि खुद को टेलीकॉम कंपनी का अधिकारी बताकर जालसाजों के गिरोह ने उसके घर की छत पर मोबाइल टॉवर लगाने के नाम पर उससे 5.49 लाख रुपये ठग लिए। मामले की जांच के दौरान सीआईडी की टीम को पता चला कि यह एक गिरोह है जो मोबाइल टॉवर लगाने के नाम पर राज्य के विभिन्न लोगों से लाखों रुपये की ठगी करता है। अभियुक्तों ने दर्जनों लोगों से करोड़ों रुपये की ठगी की है। सीआईडी के अधिकारियों ने पाया कि जालसाजों के गिरोह से जुड़े अतिर्वाण, तृषा और शुभंकर बारासात इलाके में मौजूद हैं। इसके बाद पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया। फिलहाल पुलिस अभियुक्तों से पूछताछ कर मामले की जांच कर रही है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

दुर्गापूजा से पहले नये कलेवर में सजेगा बंगाल का होम स्टे

 नजर होम स्टे पर 80% होम स्टे उत्तर बंगाल में हैं, 20% दक्षिण बंगाल में इन जगहों पर हैं होम स्टे कलिम्पोंग दार्जिलिंग कर्सियांग जलपाईगुड़ी अलीपुरदुआर का डुआर्स बांकुड़ा पुरुलिया हुगली बंगाल में होम स्टे की आगे पढ़ें »

ऊपर