बंगाल विभाजन पर भाजपा में दो राय, नड्डा ने कहा अभी चुप रहिये

लोगों से जुड़ने का दिया निर्देश
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : नुपूर शर्मा काण्ड के बाद भाजपा अधिक सतर्क हो गयी है। इस कारण ही पृथक उत्तर बंगाल की मांग पर किसी नेता को मुंह नहीं खोलने का निर्देश जेपी नड्डा ने दिया। बुधवार की रात न्यूटाउन के होटल में पार्टी नेताओं के साथ बैठक में जेपी नड्डा ने ये बात कही। केवल बंगाल विभाजन का मुद्दा ही नहीं बल्कि नीतिगत मुद्दों पर भी नेताओं को कुछ नहीं बोलने का निर्देश नड्डा ने दिया। भाजपा सूत्रों के अनुसार, बैठक में नड्डा ने बता दिया कि पार्टी की घोषित नीति के बाहर कोई कुछ नहीं बोल सकता। पार्टी की नीति पर कुछ बोलना हो तो प्रदेश के नेता ही कह सकते हैं। इधर, भाजपा नेता आपस में ही बंगाल विभाजन को लेकर अलग – अलग राय रख रहे हैं। गुरुवार को कर्सियांग के भाजपा विधायक विष्णु प्रसाद शर्मा ने कहा, ‘हम बंग भंग कर ही लेंगे। आपकी (सीएम) साड़ी में खून का एक दाग भी नहीं लगेगा और बंगाल का विभाजन हो जायेगा।’ इधर, दार्जिलिंग के सांसद राजू बिष्ट और रायगंज की सांसद व पूर्व केंद्रीय मंत्री देवश्री चौधरी ने बता दिया कि पार्टी का ऐसा कोई लक्ष्य नहीं है। राजू बिष्ट ने कहा, ‘भाजपा का ऐसा कोई लक्ष्य नहीं है। जो लक्ष्य है, उसमें दार्जिलिंग, तराई, डुआर्स में जो समस्याएं हैं, उनका समाधान करना है। इस क्षेत्र के लम्बे समय की मांग मानते हुए स्थायी राजनीतिक समाधान किया जायेगा।’ वहीं देवश्री चौधरी ने कहा, ‘मैं व्यक्तिगत तौर पर अखण्ड बंगाल चाहती हूं। हालांकि ये ठीक है कि उत्तर बंगाल के लोग लम्बे समय से वंचित हैं। इस कारण जनप्रतिनिधियों की ये सभी बातें आम लोगों को सुननी होती हैं, मैं भी उत्तर बंगाल का सांसद हूं, मुझे भी सुननी होती हैं। हालांकि भाजपा के नीतिगत निर्णय सबसे ऊपर होते हैं।’ गत वर्ष विष्णु शर्मा ने पृथक उत्तर बंगाल की मांग पर जेपी नड्डा को पत्र लिखकर गोरखालैंड की समस्या का स्थायी राजनीतिक हल निकालने का अपना वादा पूरा करने के लिए कहा था। भाजपा सांसद जॉन बारला के अलावा विधायकों आनंदमय बर्मन और शिखा चटर्जी ने भी उत्तर बंगाल को अलग करने की मांग की थी। वहीं अलग ‘जंगलमहल’ की मांग करने वाले विष्णुपुर के भाजपा सांसद सौमित्र खां ने गत बुधवार को नड्डा से मुलाकात की, उन्होंने कहा, ये मेरी व्यक्तिगत मांग है, भाजपा की नहीं। अलग उत्तर बंगाल की कुछ नेताओं की मांगों से भाजपा ने खुद को अलग कर लिया। प्रदेश भाजपा प्रवक्ता शमिक भट्टाचार्य ने कहा, ‘हम राज्य का बंटवारा नहीं चाहते लेकिन उत्तर बंगाल क्षेत्र में विकास की आवश्यकता है।’ जेपी नड्डा ने इस दिन पार्टी की नीतियों से अलग जाने के लिए मना किया और आम लोगों से जुड़ने का भी निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि सप्ताह में 5 दिन लोगों से घर-घर जाकर मिलिये। बूथ सशक्तीकरण अभियान पर जोर देने के साथ ही लगातार आंदोलन व कार्यक्रम करने की बात उन्होंने कही। बूथ स्तर पर 20 सदस्यों की टीम बनाने की बात नड्डा ने कही।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

माओवादियों के नाम पर आतंक फैलाने के आरोप में एक होमगार्ड समेत 6 गिरफ्तार

झाड़ग्राम: माओवादियों के नाम से लोगों को पत्र लिख व फोन कर धमकी देने व उगाही करने के आरोप में पुलिस ने एक होमगार्ड समेत आगे पढ़ें »

ऊपर