थाने के सामने तृणमूल युवा के दो गुटों में संघर्ष

भाजपा नेता फिकरा कसने से पीछे नहीं रहे
मालदह : चुनाव की घोषणा अभी नहीं हुई है, लेकिन सत्तारूढ़ दल का गुटीय संघर्ष थमने का नाम नहीं ले रहा है। हरीश्चंद्रपुर विधानसभा केंद्र में तृणमूल युवा कांग्रेस के दो गुटों में थाने के सामने ही जम कर संघर्ष हुआ।
मिली जानकारी के मुताबिक यह संघर्ष वृहस्पतिवार की रात को आठ बजे के करीब हुआ। इसे लेकर सत्तारूढ़ दल में बेचैनी है। विपक्ष इसका फायदा उठाते हुए टिप्पणी करने से गुरेज नहीं कर रहा है।
दोनों गुटों के बीच संघर्ष में युवा तृणमूल के कौशिक सिंह और दीपक पासवान घायल हुए हैं। आरोप है कि उन्हें बुरी तरह से मारा पीटा गया। जमीन पर गिरा कर दोनों की जम कर पिटायी की गई। उनके साथियों ने उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया। आरोप लगाया गया है कि हरीश्चंद्रपुर एक नंबर ब्लॉक तृणमूल कांग्रेस के अध्यक्ष मानिक दास के नेतृत्व में साहब दास ने अपने दलबल के साथ हमला किया था। जबकि साहब दास का कहना है कि यह एक साजिश है। युवा टीएमसी के एक नंबर ब्लॉक के अध्यक्ष जियाउर रहमान के पास अब कार्यकर्ता नहीं बचे हैं। इसलिए कार्यकर्ताओं के अपने पास टानने के लिए इस तरह की साजिश कर रहे हैं। हरीश्चंद्रपुर युवा तृणमूल के अध्यक्ष ने पूरी घटना को आधारविहीन बताते हुए कहा कि वे सब तृणमूल के प्रतीक को साथ में लेकर भाजपा के लिए काम कर रहे हैं। तृणमूल कांग्रेस एक नंबर ब्लॉक के अध्यक्ष मानिक दास ने कहा कि वे दलीय काम से बाहर गए थे और कार्यकर्ताओं के बीच गलतफहमी हुई है और इसे आपस में ही निपटा लिया जाएगा। जिला बीजेपी के सचिव किसन केडिया ने कहा कि गुटीय संघर्ष में ही तृणमूल कांग्रेस समाप्त हो जाएगी। उन्होंने कहा कि सारा विवाद कटमनी को लेकर है। उन्होंने सवाल किया कि थाने के सामने इस तरह की घटना घटने के बावजूद प्रशासन खामोश क्यों है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

rape

बुजुर्ग तांत्रिक ने नाबालिग बच्ची के साथ किया दुष्कर्म,‌ फिर…

अमरोहाः उत्तर प्रदेश के अमरोहा से एक नाबालिग बच्ची के साथ दुष्कर्म का मामला सामने आया है। बताया जा रहा है कि बच्ची के साथ आगे पढ़ें »

जब मनचले ने लेडी पुल‍िस से कहा, ‘इतनी पतली हो, रायफल कैसे संभालती हो!

फरीदपुरः उत्तर प्रदेश में महिलाओं से छेड़छाड़ के मामले दिन रोज बढ़ रहे है। अब तो मनचले बदमाशों का इतना साहस बढ़ गया है कि आगे पढ़ें »

ऊपर