महानगर में डेंगू व मलेरिया से दो की मौत

सन्मार्ग संवाददाता,कोलकाता : कोलकाता नगर निगम जहां दावा कर रहा है कि महानगर में मच्छर जनित बीमारियां कम होती जा रही हैं। वहीं लोगों के डेंगू व मलेरिया से लगातार मरने का आकांड़ा कुछ और बयान कर रहा है।

मलेरिया और डेंगू निगल गई

उल्लेखनीय है कि वार्ड 9 के श्यामपुकुर में रहने वाले रोहित कुमार (25) की मौत रविवार की रात डेंगू से हो गई। उसे गुरुवार को अस्पताल में भर्ती कराया गया था जहां पर उसकी हालत दिन प्रतिदिन बिगड़ती चली गई और रविवार की देर रात उसकी मौत हो गई।

दूसरी ओर वार्ड 42 के 137, रवीन्द्र सरणी में रहने वाली रजिया सिकंदर (49) की मौत मलेरिया से हो गई। शुक्रवार को उन्हे तेज बुखार आया था जिसके बाद उन्हें बड़ाबाजार के निजी अस्पताल में भर्ती करया गया था, जहां पर रविवार को उनकी मौत हो गई।

रवीन्द्र सरणी की इस्लामिया बिल्डिंग में कई लोग डेंगू की चपेट में हैं। लोगों का आरोप है कि उनके इलाके में डेंगू व मलेरिया के लिये कीटनाशक का छिड़काव उचित तरीके से नहीं किया जाता है और ना ही हेल्थ सेंटरों से किसी प्रकार की उचित मदद दी जा रही है। गौरतलब है कि वार्ड 42 के 12 नंबर रूप चंद स्ट्रीट में रहने वाले दिनेश साव (46) की मौत शनिवार को मलेरिया से हो गई थी।

ठंड नहीं आने से डेंगू की चपेट में

महानगर में लगातार लोगों की डेंगू से हो रही मौत पर मेयर फिरहाद हकीम ने कहा कि कोलकाता नगर निगम का अपनी ओर से प्रयास जारी है, लेकिन प्रकृति से लड़ पाना मुश्किल है। दिसबंर की शुरुआत हो चुकी है लेकिन महानगर में ठंड ने दस्तक नहीं दी है,इसकी वजह ग्लोबल वार्मिंग को बताया गया। उन्होंने कहा कि ठंड आने से मच्छर कम होते हैं लेकिन महानगर की भौगोलिक ​स्थिति को संभाल पाना निगम के हाथ में नहीं है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

अमेरिका व चीन के बीच बढ़ते तनाव से दुनियाभर में आर्थिक गतिविधियां प्रभावित

नई दिल्ली : कोरोना महामारी के कारण अमेरिका का काफी नुकसान हुआ है। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने चीन को लेकर लगातार आक्रामक रुख आगे पढ़ें »

बंगाल में कोरोना का कहर एक दिन में आए 183 नये मामले

कोलकाता : कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव के ​लिए लागू लॉकडाउन के 64वें दिन बुधवार को बंगाल में पिछले 24 घंटे में 183 लोगों के आगे पढ़ें »

ऊपर