तीसरी लहर से पहले राज्य में मिले डेल्टा प्लस के दो मामले

हावड़ा और हुगली के हैं दोनों मामले
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : तीसरी लहर की दस्तक को लेकर केंद्र द्वारा राज्यों को पहले से ही अलर्ट रहने का निर्देश दिया गया है। इससे लड़ने के लिए क्या दिशा निर्देश होने चाहिए इस पर भी लगातार बैठकों का दौर जारी है। इस बीच राज्य के दो जिले हावड़ा और हुगली में डेल्टा प्लस के दो मामले सामने आये हैं जो अपने आप में बड़ी परेशानी का सबब सा लग रहा है। केंद्र सरकार द्वारा डेल्टा प्लस से ग्रसित मरीजों की जो तालिका प्रकाशित की गयी है उसमें बंगाल के ये दोनों मामले हैं। दोनों ही मरीजों के शरीर में ये वेरिएंट पाए गये हैं। विशेषज्ञों की माने तो यह दस्तक है राज्य में डेल्टा प्लस के आने की। समय रहते अगर रोकथाम नहीं की गयी तो भुगतान बड़ा करना पड़ सकता है। डब्ल्यू एच ओ की माने तो इस वायरस के लिए कहा जाता है कि वह अपनी प्रतिलिपि या अनुलिपि खुद तैयार करता है जो उसके लिए एक प्राकृतिक प्रक्रिया है तथा इसी परिवर्तन को म्युटेशन कहा जाता है। इसे लेकर राज्य के मंत्री फिरहाद हकीम ने कहा ऐसी परिस्थिति में खुद को सुरक्षित रखने की जरूरत है। अगर कोई यह सोचकर बेपरवाह हो रहा है कि वैक्सिन के दोनों डोज लग गये हैं तो यह धारणा ही गलत है। लोगों को सतर्क रहने की जरूरत है। दूसरी तरफ राज्य में कोरोना पर रोकथाम के लिए अभी भी लोकल ट्रेनें बंद हैं, सिर्फ स्टॉफ लोकल ट्रेनों का परिचालन ही किया जा रहा है। जहां रियायत मिली है वहां भी कोविड नियमों का पालन करने की सख्त हिदायत दी गयी है। बावजूद इसके कई जगहों में स्थिति ऐसी है जहां देखने में प्रतीत ही नहीं होता है कि देश कोरोना के संक्रमण में बंधा हुआ है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

घर में जरूर लगाएं ये एक चीज, बदल सकता है आपका भाग्य

कोलकाता : फेंगशुई में विंड चाइम को शुभ माना जाता है। आमतौर पर इसका प्रयोग घर की सजावट करने के लिए किया जाता है। माना आगे पढ़ें »

ऊपर