पोर्ट इलाके में तृणमूल और कांग्रेस के बीच हुई भिड़ंत, गार्डनरीच में भारी तनाव

भाजपा नहीं दिखी
कोलकाता : सोमवार को मतदान के दौरान कोलकाता पोर्ट विधानसभा के कई इलाके जहां शांत रहे वहीं कई इलाकों में तृणमूल और कांग्रेस के बीच भिड़ंत हो गयी। इन सबसे बाहर दिखी भाजपा। इस दिन गार्डनरीज इलाके में सुबह से तनाव रहा जाे शाम होते होते बढ़ गया। भारी पुलिस बल व केंद्रीय पुलिस मौके पर पहुंचीं। दरअसल, तृणमूल के उम्मीदवार फिरहाद हकीम ने आरोप लगाया है कि कांग्रेस के उम्मीदवार मो. मुख्तार व उनके लोग तृणमूल कर्मियों को उकसा रहे हैं। मतदाताओं को प्रभावित करने की काेशिश कर रहे हैं। ऐसा गार्डनरीच में हो रहा है यह जानकर फिरहाद हकीम मौके पर पहुंचे। आरोप है कि इस दौरान दोनों ओर से काफी बहस हुई किसी तरह मामला शांत हुआ, ले​किन शाम होते होते तृणमूल और कांग्रेस के कर्मी एक बार फिर आमने सामने आ गये। तृणमूल कर्मियों ने मो. मुख्तार की गिरफ्तारी की मांग करने लगे। भारी तनाव को देखते वरिष्ठ पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे।
कांग्रेस उम्मीदवार ने जानबुझकर तनाव उत्पन्न किया, पुलिस रही निष्क्रिय – फिरहाद
फिरहाद हकीम ने आरोप लगाया है कि कांग्रेस के लोग जानबुझ भारी तनाव पैदा करना चाह रहे थे। हमलोगों ने तृणमूल कर्मियों को समझाया है कि किसी भी उकसावे में नहीं जाना है। अगर तृणमूल के कर्मी चुप है इसका मतलब यह नहीं है कि वे कमजाेर हैं। फिरहाद हकीम ने आरोप लगाया है कि पुलिस प्रशासन की भूमिका पूरी तरह से निष्क्रिय रही है।
तृणमूल उम्मीदवार का सब किया धरा – मो. मुख्तार
इधर, संयुक्त मोर्चा के उम्मीदवार मो. मुख्तार ने आरोप लगाया कि गार्डनरीच में शांतिपूर्ण मतदान हो रहा था, लेकिन फिरहाद हकीम ने आकर यहां उकसावा दिया। तृणमूल के कर्मियों ने हमारे लोगों को पीटा। हमलोग शांति से मतदान चाहते थे।

शेयर करें

मुख्य समाचार

शादी के महज 5 घंटे बाद ही दुल्हन की हुई मौत, डोली के बदले उठी अर्थी

मुंगेर : बिहार के मुंगेर में ऐसी घटना सामने आई, जिसे सुनकर लोगों को जैसे विश्वास ही नहीं हो रहा। यहां एक शादी समारोह में आगे पढ़ें »

दक्षिण बंगाल में आंधी-बारिश से जुड़ी घटनाओं में तीन की मौत

कोलकाता : दक्षिण बंगाल में कोलकाता और उसके आसपास के जिलों में मंगलवार दोपहर बाद आंधी के साथ बारिश हुई और संबंधित हादसों में तीन आगे पढ़ें »

ऊपर