तृणमूल के स्टूडेंट यूनियन ने कहा, माने गये थे सभी प्रोटोकॉल

सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : नजरूल मंच में कांसर्ट के बाद के.के. की मौत ने कई सवाल खड़े कर दिये हैं। बताया गया कि कार्डियक अरेस्ट के कारण के. के. की मौत हुई। मौत के बाद प्रत्यक्षदर्शियों ने दावा किया और कई वीडियो फुटेज सामने आये जिसमें देखा गया कि के. के. खचाखच भरी भीड़ में परफॉर्म कर रहे थे। क्षमता से अधिक लोग हॉल में आ गये थे जिस कारण एसी काम नहीं कर रहा था और गायक ने कई बार गर्मी और एसी चलाने को लेकर शो के दौरान ही शिकायत भी की थी। गत 31 मई को कोलकाता आधारित इवेंट मैनेजमेंट कंपनी ब्लैक आईड इवेंट हाउस द्वारा कांसर्ट का आयोजन किया गया था। सर गुरुदास महाविद्यालय के टीएमसीपी स्टूडेंट यूनियन की ओर से कार्यक्रम आयोजित किया गया था। ब्लैक आईड इवेंट हाउस द्वारा ही गत 30 मई को स्वामी विवेकांनद कॉलेज का कार्यक्रम किया गया था।
कहा, माने गये थे प्रोटोकॉल
सर गुरुदास महाविद्यालय के टीएमसीपी स्टूडेंट यूनियन के एक सदस्य ने कहा कि कार्यक्रम आयोजित करने के लिए सभी प्रोटोकॉल माने गये थे। उसने कहा, ‘हमने केवल अपने कॉलेज के स्टूडेंट्स में पास बांटे थे। सभी प्रोटोकॉल हमने माने थे और कोलकाता पुलिस की अनुमति भी ली थी। वहां 30-35 बाउंसर्स भी थे, पुलिस और एम्बुलेंस भी कार्यक्रम में मौजूद थी।’ उसने कहा, ‘हमने स्टूडेंट्स को 3500 पासेस स्टूडेंट्स को दिये थे। कम से कम 5000 लोग शो देखने के लिए आये थे। हमें नहीं पता कि वे कहां से आ गये। एंट्री करने के लिए दीवार कूदकर वे अंदर आ गये थे। हमारे वोलंटियर्स ने भीड़ को नियंत्रित करने की पूरी कोशिश की, लेकिन वे ऐसा नहीं कर सके।’ उसने स्वीकार किया कि ऑडिटोरियम का एसी उचित ढंग से काम नहीं कर रहा था, हालांकि उसने का कि के.के. ने शो के दौरान स्वास्थ्य को लेकर कोई शिकायत नहीं की थी।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

पूर्व जादवपुर में महिला की गला घोट कर हत्या

कोलकाता : महानगर में एक महिला की घर के अंदर गला घोट कर हत्या कर दी गयी। घटना पूर्व जादवपुर थानांतर्गत चितकालिकापुर इलाके में स्थित आगे पढ़ें »

ऊपर