कालीगंज में बम मारकर व धारदार हथियार से प्रहार कर तृणमूल कर्मी की हत्या

दूसरे एक कर्मी की भी अवस्था है गंभीर
दो गुटों के बीच संघर्ष के दौरान ही हथियारबंद समा​जविरोधियों ने दिया घटना को अंजाम
नदियाः कालीगंज थाना अंतर्गत देवग्राम फांड़ी के गहरापोता गांव में दो गुटों के बीच हुई झड़प में एक गुट के दो व्यक्ति गंभीर रूप से घायल होे गये। गंभीर हालत में दोनों को स्थानीय अस्पताल में ले जाने पर डाॅॅक्टरों ने दोनों को शक्तिनगर जिला अस्पताल रेफर कर दिया जहां इलाजरत अवस्था में तैयब अली शेख (46) की मौत हो गई। वहीं जख्मी मीनारुल शेख उसी अस्पताल में चिकित्साधीन है। घटना के बाद से इलाके में व्यापक तनाव है। इस मामले में पुलिस ने मइनुद्दीन शेख नामक व्यक्ति को गिरफ्तार किया है। मृतक के भाई कमाल शेख ने बताया कि उनका परिवार तृणमूल समर्थक है। उनका प्रतिद्वंद्वी गुट विक्षुब्ध तृणमूल कांग्रेस है। दोनों गुटों के बीच काफी दिनों से कटुता है। आरोप है कि गुरुवार की रात करीब 8 बजे तैयब अली शेख और मीनारुल शेख रास्ते के किनारे खड़े होकर बातचीत कर रहे थे कि तभी हथियारबंद लोगों ने वहां हमला किया। आरोप है कि ताबड़तोड़ कई बम वहां चार्ज​ किये गये। बम विस्फोट की आवाज से पूरा इलाका ही थर्रा उठा। इसमें उक्त तैयब व मीनारुल घायल हो गये और है कि इसके बाद हमलावरों ने दोनों पर धारदार हथियार से भी कई बार प्रहार किया। दोनों के धरासाई हो जाने पर हमलावर वहां से भाग निकले। मृतक के बेटे आमिनूल शेख का दावा है कि पंचायत सदस्य मइनुद्दीन शेख के नेतृत्व में उसके पिता की हत्या हुई है। विपक्षियों का आरोप है कि तृणमूल के गुटीय कलह के कारण घटना घटी है हालांकि पार्टी में गुटबाजी के आरोपों को खारीज करते हुए स्थानीय तृणमूल नेतृत्व का कहना है कि मइनुद्दीन शेख अर्से से तृणमूल के संपर्क में नहीं है। वह दूसरी पार्टी का होकर काम कर रहा है। पुलिस ने उसे गिरफ्तार किया है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

शादी का वादा कर प्रेमिका से किया दुष्कर्म, पहुंचा जेल, बाहर निकलने पर दोबारा किया दुष्कर्म

गोल्फग्रीन इलाके की घटना सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : शादी का वादा कर प्रेमिका से दुष्कर्म करने के आरोप में पुलिस ने एक युवक को गिरफ्तार किया। जेल आगे पढ़ें »

ऊपर