त्रिपुरा में आज तृणमूल मनाएंगी राखी उत्सव

सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता/त्रिपुरा : आज रक्षा बंधन के खास मौके पर ऑल इंडिया तृणमूल कांग्रेस की तरफ से त्रिपुरा में राखी उत्सव मनाया जाएगा। इसके पहले तृणमूल त्रिपुरा में खेला होबे उत्सव मना चुकी है। दरअसल तृणमूल त्रिपुरा में अपनी जमीन तैयार कर रही है ताकि आगामी विधानसभा चुनाव में भाजपा जैसी पार्टी को शिकस्त दे सके। खुद ममता बनर्जी पार्टी नेताओं का हौसला बुलंद करते हुए कह चुकी है कि त्रिपुरा में इस बार तृणमूल जीत कर दिखाएगी। इसी कड़ी में तृणमूल त्रिपुरा में अपनी सक्रियता बढ़ाएं हुए है।
त्रिपुरा में तृणमूल नेता आशिष लाल सिंह ने बताया कि पार्टी नेतृत्व की ओर से कहा गया है कि विभिन्न गतिविधयों को लेकर पार्टी कार्यक्रमों का आयोजन करें तथा अपनी सक्रियता आम जनता के बीच बनाएं रखे। राखी उत्सव उसी का हिस्सा है। यहां हम बताते चले कि तृणमूल के राष्ट्रीय महासचिव व सांसद अभिषेक बंद्योपाध्याय पिछले कुछ दिनों में त्रिपुरा दौरे पर जाते रहे है। स्थितियां यहां तक गयी कि त्रिपुरा में तृणमूल नेताओं को रोकने तक की कोशिश की गयी। उन पर कथित तौर पर हमले किए गए यहां तक कि पुलिस द्वारा मामला तक किया गया। इन अड़चनों के बीच तृणमूल वहां अपनी जमीन मजबूत कर लोगों के बीच पैठ जमाने में लगी हुई है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

पूजा के बाद कॉलेज – विश्वविद्यालयों खुल सकते है, छात्रों को जल्द लगेगी वैक्सीन

कोलकाता : पूजा के बाद कॉलेज - विश्वविद्यालय खुल सकते हैं। इसी क्रम में राज्य सरकार ने स्वास्थ विभाग से कहा है कि कॉलेज विश्वविद्यालयों आगे पढ़ें »

भाजपा की अपील : ‘बुर्का’ पहनकर आये मतदाताओं की हो पूरी जांच

भवानीपुर विधानसभा चुनाव : हाई कोर्ट में निर्णायक सुनवायी आज

पितृ पक्ष में इन संकेतों से जानें पूर्वज खुश हैं या नहीं

पैसों की तंगी से बचने के लिए करें आटे के ये उपाय, होगी मां लक्ष्मी की कृपा

मिनी भारत है भवानीपुर, यहीं से शुरू होगी दिल्ली की लड़ाई : ममता

इस उम्र की लडकियां चाहती है बिना कंडोम के सेक्स करना

चाहूं तो 3 महीने में बंगाल भाजपा को खत्म कर दूं लेकिन ऐसा नहीं करूंगा – अभिषेक

भाजपा सोच भी नहीं सकती कि ऐसे बड़े नेता आना चाहते हैं तृणमूल में – फिरहाद

भाजपा नेता के शव के साथ प्रदेश अध्यक्ष पहुंचे कालीघाट, पुलिस के साथ धक्का-मुक्की

ऊपर