ईसी के अधिकारियों के सामने से ही लापता हुए तृणमूल नेता अणुब्रत मंडल

नजरबंदी के आदेश की उड़ी धज्जियां

इलाके में घूम-घूम कर रहे हैं मीटिंग
बीरभूम : बीरभूम जिले के बहुचर्चित व विवादित टीएमसी नेता अणुब्रत मंडल चुनाव आधिकारियों और सेंट्रल फोर्स के जवान की आंखों में धूल झोंक कर बुधवार की सुबह उनकी लापता हो गए हैं। अब चुनाव अधिकारी उन्हें बीरभूम के विभिन्न इलाकों में तलाश कर रहे हैं। बता दें कि चुनाव आयोग ने मंगलवार की शाम को उन्हें नजरबंद करने का निर्देश दिया था। चुनाव आयोग के निर्देश के अनुसार अणुब्रत मंडल को 27 अप्रैल को शाम पांच बजे से 30 अप्रैल को सुबह 7 बजे तक नजरबंद में रहना था। बता दें कि कल पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के आठवें और अंतिम चरण का मतदान है और नजरबंदी के आदेश के बाद हुंकार भरी थी कि खेला होगा। बीरभूम की सभी 11 साटों की टीएमसी जीत हासिल करेगी।
अधिकारियों के सामने से ही लापता हो गए अणुब्रत
बुधवार की सुबह वह चुनाव अधिकारियों और केंद्रीय बलों के साथ अपने घर से रवाना हुए। उनकी गाड़ी के काफिला लगभग 200 मीटर तक सेंट्रल फोर्स के साथ चला, लेकिन उलके बाद सेंट्रल फोर्स और पर्यवक्षेकों की आंखों में धूल झोंकते हुए काफिले लापता हो गया। चुनाव आयोग के अधिकारी सड़कों के चक्कर लगाने के बाद भी उन्हें नहीं खोज पा रहे हैं, जबकि अणुब्रत मंडल बीरभूम के विभिन्न इलाकों में जा रहे हैं और टीएमसी नेताओं के साथ बैठक कर रहे हैं, जबकि अर्द्धसैनिक बल के जवान, दंडाधिकारी, वीडियोग्राफर सभी आवाक हैं, कि वे क्या करें। सवाल यह है कि आयोग के अधिकारियों की कार अनुब्रत कार के ठीक पीछे थी, लेकिन यह कैसे संभव है? आयोग के अधिकारियों का यह भी कहना है कि जाम के कारण यह हुआ।
विवादों से पुराना रहा है नाता
बता दें कि बोलपुर जिला टीएमसी अध्यक्ष अणुव्रत मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के बेहद करीबी माने जाते हैं और विपक्षी पार्टियों के नेताओं कार्यकर्ताओं के साथ मारपीट धमकी और अन्य संगीन अपराधों के लिए कुख्यात रहे हैं। बीजेपी सहित विरोधी पार्टियों ने अनुब्रत मंडल पर विरोधी दल के कार्यकर्ताओं को धमकाने का आरोप लगाया था। इस बाबत चुनाव आयोग से शिकायत की थी। बता दें कि साल 2019 के लोकसभा चुनाव के समय उनके विवादित बयानों और धमकियों की वजह से चुनाव आयोग ने उन्हें घर में ही नजरबंद किया था।

शेयर करें

मुख्य समाचार

जीत गई काव्या! अनुपमा और वनराज का हुआ तलाक, लौटाई प्यार की बड़ी निशानी

मुंबईः टीवी सीरियल ‘अनुपमा’ में हर दिन कुछ नया न हो क्या ऐसा हो सकता है? बिल्कुल भी नहीं। अनुपमा और वनराज अब हमेशा के आगे पढ़ें »

शादी के महज 5 घंटे बाद ही दुल्हन की हुई मौत, डोली के बदले उठी अर्थी

मुंगेर : बिहार के मुंगेर में ऐसी घटना सामने आई, जिसे सुनकर लोगों को जैसे विश्वास ही नहीं हो रहा। यहां एक शादी समारोह में आगे पढ़ें »

ऊपर