तृणमूल हिंदी प्रकोष्ठ ने की भाटपाड़ा के जरूरतमंदों की मदद

 

भाटपाड़ा : तृणमूल हिंदी प्रकोष्ठ की ओर से उत्तर 24 परगना जिला प्रकोष्ठ कन्वेनर अमित गुप्ता के नेतृत्व में मंगलवार की शाम कांकिनाड़ा बाजार वैराइटी मोड़ पर एक कंबल वितरण कार्यक्रम का आयोजन किया गया, जहां अंचल के उन हजारों लोगों में कंबल व गर्म कपड़े वितरित किये गये जो कि इस ठिठुरन में भी कंबल खरीदने की स्थिति में नहीं है।
मंच पर मुख्य अतिथि व तृणमूल हिंदी प्रकोष्ठ के अध्यक्ष विवेक गुप्त ने ललकारते हुए कहा कि हिंदीभाषियों को बांटने का काम और पार्टियां करती हैं मगर ममता दीदी की नजरों में बंगाल का हर नागरिक पहले यहां का नागरिक है, उसकी पहचान यही है मगर और सरकारें ऐसा नहीं करतीं। वे तो भाषाओं पर भी बांटने की नीति अपनाती हैं। वहीं उन्होंने इस जूट मिल अंचल के नागरिकों को संबोधित करते हुए कहा कि यहां के एक नेता को जूट में फायदा दिखता है मगर दीदी को श्रमिक दिखते हैं, यही कारण है कि जब भी कोई जूट मिल बंद होती है तो हम बैठकर बातचीत कर समस्याओं को दूर करने में पूरा जोर लगा देते हैं। जिला हिंदी प्रकोष्ठ कन्वेनर अमित गुप्ता ने कहा कि तृणमूल की सरकार वादे नहीं करती बल्कि काम करके दिखा देती है। काम करने के बाद आम जनता में अपने काम को दिखाकर वोट की अपील करती है मगर विरोधियों में ऐसा नहीं है। आज वे वादे करते हैं और वोट के बाद सब भुला देते हैं।
भाटपाड़ा तृणमूल कमेटी के चेयरमैन धर्मपाल गुप्ता ने मगही भाषा में लोगों को संबोधित कर अपील की कि वे सभी तृणमूल पर भरोसा दिखाएं क्योंकि इसे छोड़कर कोई और यहां लोगों के हित में नहीं सोचने वाला। वे अपना मतलब निकलते ही भूल जाएंगे। प्रकोष्ठ के प्रेसिडेन्सी रेंज के पर्यवेक्षक राजेश सिन्हा ने प्रकोष्ठ के उद्देश्यों को सामने रखते हुए कहा कि यह एक मार्ग है जिस पर चलकर सभी का विकास होना ही है।
शेयर करें

मुख्य समाचार

birds disappeared

महानंदा अभयारण्य में पहला पंछी महोत्सव 20 फरवरी से

कोलकाता : पश्चिम बंगाल के महानंदा वन्यजीव अभयारण्य में पहली बार पंछी महोत्सव का आयोजन किया जा रहा है जिसमें पक्षी प्रेमियों को वन में आगे पढ़ें »

जब साजिद ने जिया से टॉप खुलवाकर ब्रा…

मुंबईः दिवंगत एक्ट्रेस जिया खान की जिंदगी पर बनी डॉक्युमेंट्री 'डेथ इन बॉलीवुड' हाल ही में यूके में रिलीज की गई। इस डॉक्युमेंट्री के दूसरे आगे पढ़ें »

ऊपर