दिनभर मतगणना केंद्र पर हर राउंड पर टिकी रही तृणमूल व भाजपा की निगाह

अंतिम राउंड के बाद ही बाहर निकलीं प्रियंका टिबरेवाल
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाताः राज्य में तीन सीटों के लिए हुए उपचुनाव के बाद चुनावी नतीजे रविवार को घोषित किए गए। तीनों ही सीटों को लेकर सुबह से ही सरगर्मी का माहौल समर्थकों में रहा। हालांकि हाईप्रोफाइल सीट भवानीपुर को लेकर भाजपा व तृणमूल दोनों ही दलों के कार्यकर्ताओं में काफी तनावपूर्ण माहौव सा नजर आया। आलम यह था कि किसी भी पार्टी के एजेंट तब तक मतगणना स्थल से नहीं हिले, जब तक कि पूरी काउंटिंग नहीं हो पाई। यहां तक कि भवानीपुर से भाजपा की उम्मीदवार प्रियंका टिबरेवाल स्वयं आखिरी राउंड की घोषणा के बाद ही बाहर निकलीं। वह अपने समर्थकों का हौसला हाफजाई करती नजर आईं।
त्रिस्तरीय सुरक्षा में हुई काउंटिंग
भवानीपुर की सीट के लिए मतगणना सखावत मेमोरियल स्कूल में सुबह 8 बजे शुरू हुई। सुबह से ही यह सुरक्षा के घेरे में तब्दील था। त्रिस्तरीय सुरक्षा व्यवस्था यहां की गई थी। मतगणना केंद्र के बाहर से लेकर अंदर तक अर्द्धसैनिक बलों की टुकड़ी तैनात थी।
महिला अर्द्धसैनिक बलों ने संभाले रखा मोर्चा
वैसे तो मतगणना केंद्र सखावत मेमोरियल स्कूल में अर्द्धसैनिक बल व पुलिस बलों में पुरुष जवान ही काफी थे। हालांकि सुरक्षा की एक बड़ी जिम्मेवारी महिला अर्द्धसैनिक बलों ने संभाल रखी थी। एक तरह से यह मॉडल मतगणना केंद्र के तौर पर भी नजर आया, जहां मतगणना अधिकारी से लेकर कर्मियों में भी महिलाओं की संख्या काफी थी।
हर राउंड में आगे रहीं ममता
कुल 21 राउंड में भवानीपुर की सीट के लिए मतगणना केंद्र में गिनती हुई। शुरुआती रुझान से ही तृणमूल सुप्रीमो ममता बनर्जी हर राउंड में ही आगे रहीं। धीरे-धीरे उनके मतों का अंतर बढ़ता ही गया। आखिरकार एक बड़े अंतर 58835 से उन्होंने उपचुनाव में जीत हासिल की।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

100 करोड़ वैक्सीनेशन पर दिलीप घोष ने तृणमूल पर किया कटाक्ष

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : 100 करोड़ वैक्सीनेशन पर भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष दिलीप घोष ने जहां नरेंद्र मोदी सरकार की प्रशंसा की तो वहीं राज्य की आगे पढ़ें »

ऊपर