हावड़ा में फूंके गए ट्रेनें व बसें,टिकट घर और पैनल रूम को किया आग के हवाले


सन्मार्ग संवाददाता,हावड़ा :
कैब के विरोध में शनिवार को हावड़ा में जगह-जगह जोरदार प्रदर्शन एवं आगजनी की गयी। इस दौरान सबसे ज्यादा कोना एक्सप्रेस वे प्रभावित हुआ जहां प्रदर्शनकारियों ने वहां मौजूद बसों को फूंक दिया। इसके साथ प्रदर्शन को खत्म करने पहुंची हावड़ा सिटी पुलिस पर पथराव किया गया।

कोना एक्सप्रेस वे पर प्रदर्शनकारियों ने फूंकी बसें

जगाछा थानांतर्गत सांतरागाछी इलाके के कोना एक्सप्रेस वे पर शनिवार की सुबह से गरफा ब्रिज के ​नीचे प्रदर्शनकारी एकत्रित हुए। लोगों ने वहां टायर जलाकर आगजनी एवं केंद्रीय मंत्री अमित शाह का पूतला फूंका। इसके बाद वे लोग नारेबाजी करने लगे। इसके साथ ही उन्होंने रोड अवरोध कर दिया जिससे कोना में बसों समेत अन्य वाहनों की लंबी कतारें लग गयी। इनसे जब उनका गुस्सा शांत नहीं हुआ तो वे पहले जाम में फंसी बसों में यात्रियों को उतारकर तोड़फोड़ करने लगे। इसके बाद वहां खड़ी बसों में से एक के बाद एक 16 बसों में आग लगा दी। इस घटना के दौरान वहां मौजूद पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को हटाने के लिए हल्का बल का प्रयोग किया।
पुलिस पर ईंट व पत्थर फेंका
मौके पर डीसी हेडक्वार्टर अजीत सिंह यादव समेत अन्य पुलिस कर्मी ने आंसू गैस के गोले छोड़े। इस दौरान लाठी चार्ज कर प्रदर्शनकारियों को हटाया गया। इसके जवाब में प्रदर्शनकारियों ने पुलिस पर ईंट व पत्थर फेंकना शुरू कर दिया। इसमे डीसी जोन 2 स्वाति भंगालिया समेत 4 पुलिस कर्मी घायल हो गये। उनका प्राथमिक इलाज कराया गया। इस घटना के बाद डीसी के नेतृत्व में जगाछा थाना के प्रभारी सुरेंद्र सिंह ने घंटों तक जाम की स्थिति को सामान्य किया।
उलूबेड़िया के टिकट काउंटर में तोड़फोड़
उलूबेड़िया स्टेशन पर अवरोध करने पहुंचे लोगों ने टिकट काउंटर के सामने टायर जलाया और बाद में टिकट काउंटर में तोड़फोड़ की गयी। इसके बाद रेल अवरोध शुरू कर दिया गया। इसके कारण कई पैसेंजर, एक्सप्रेस एवं लोकल ट्रेनें विभिन्न जगहों में खड़ी हो गयी।
डोमजूड़ में किया गया पथावरोध

डोमजूड़ के सलप मोड़ पर अवरोधकारी पथावरोध करने के लिए पहुंचे। यहां उन्होंने करीब 1 घंटे तक पथावरोध किया। इसके बाद वहां पहुंची पुलिस ने अवरोध को खत्म कराकर प्रदर्शनकारियों को वहां  से हटाया।

सांकराइल में फूंका गया पोस्ट ऑफिस

हावड़ा के सांकराइल में 11 बजे से ही प्रदर्शन शुरू कर दिया गया। इस दौरान उन्होंने जगह जगह टायर जलाकर आगजनी की। इसके बाद अवरोधकारी सांकराइल स्टेशन पहुंचें। यहां उन्होंने रेल अवरोध किया और साथ ही स्टेशन पर तोड़फाेड़ करनी शुरू कर दी। वहां टिकट काउंटर को तोड़कर उसमें आग लगा दी गयी। इसके साथ ही स्टेशन पर मौजूद पैनल रूम जहां से ट्रेन की सिग्नल को मैंनटेन किया जाता है। उसमें रखे पैनल बॉक्स को आग लगा दी गयी। इसके कारण सांकराइल से आने व जानेवाली ट्रेनें जहां तहां रूक गयी। उनलोगों ने रेलवे के लेवल क्रासिंग प्लेटफार्म पर मौजूद कुर्सियों को भी तोड़ दिया। सांकराइल में मौजूद पोस्टऑफिस को तोड़ दिया गया।

शेयर करें

मुख्य समाचार

हम जितना क्रिकेट खेल रहे थे, ऐसे में लॉकडाउन वाला ब्रेक जरूरी : रवि शास्त्री

नयी दिल्ली : भारतीय टीम के मुख्य कोच रवि शास्त्री का मानना है कि कोविड - 19 के कारण पूरी दुनिया मानों रूक जाने से आगे पढ़ें »

धोनी की टीम इंडिया में वापसी मुश्किल है : भोगले

नयी दिल्ली : भारत के मशहूर क्रिकेट कमेंटेटर हर्षा भोगले का मानना है कि पूर्व भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी का टीम इंडिया में वापस आगे पढ़ें »

ऊपर