कोरोना महामारी के बीच कल होगा प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला

-सिलीगुड़ी के मतगणना केन्द्रों में किये गये तगड़े इंतजाम
-काउंटिंग एजेंट के लिए भी कोरोना निगेटिव होना जरूरी
-सिलीगुड़ी कॉलेज में रैपिड एंटीजन टेस्ट के लिए लगी लंबी लाइन
सिलीगुड़ी: विकराल रूप धारण करती कोरोना महामारी के बिच सोमवार को मतगणना का काम संपन्न होगा। चुनाव आयोग के गाइड लाइन के अनुसार सभी मतगणना केन्द्रों में तैयारी की जा रही है। मतगणना के लिए काउंटिंग एजेंट का कोरोना निगेटिव होना जरूरी है। इसे ध्यान में रखकर सुबह से ही सिलीगुड़ी कॉलेज के डीसीआरसी सेंटरों में रैपिट एंजिजेन टेस्ट करने के लिए लोगों की लंबी लाइन लगी थी। जानकारी मिली है कि मतगणना के दिनों में भी सिमित लोगों को कॉलेज परिसर में जाने की अनुमती दी जायेगी।
दार्जिलिंग जिले में आने वाले 5 विधानसभा केन्द्रों के लिए तीन मतगणना केन्द्र तैयार किये गये है। माटीगाड़ा नक्सलबाड़ी, सिलीगुड़ी तथा फांसीदेवा विधानसभा केन्द्र के प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला सिलीगुड़ी कॉलेज में होगा। जबकी कर्सियांग विधान सभा के लिए कर्सियांग सेंट एलफोन्सिस स्कूल तथा दार्जिलिंग विधानसभा के लिए दार्जिलिंग गवर्नमेंट कॉलेज को चिन्हित किया गया है। सुबह 8 बजे इन तीनों मतगणना केन्द्रों में काउंटिंग का काम शुरू होगा।
इस विषय पर दार्जिलिंग के एडीएम खुर्शीद कादिर ने कहा कि सुबह 5 बजे से काउंटिंग की प्रक्रिया शुरू कर दी जायेगी। सबसे पहले काउंटिंग एजेंट को टेबल मुहैया कराया जायेगा। 7 बजे तक काउंटिंग एजेंट को अपने अपने टेबल को चिन्हित कर उन्हें स्थान ग्रहण कर लेना है। उन्होंने बताया कि 8 बजे से काउंटिंग को शुरू किया जायेगा। सबसे पहले पोस्टल बैलेट उसके बाद इवीएम मशीन में मतगणना की प्रक्रिया शुरू की जायेगी। मतगणना केन्द्रों में चुनाव आयोग द्वारा जारी किये गये सभी गाइड लाइन को माने जा रहे है। जिले के सभी केन्द्रों में प्रवेश द्वार तथा निकासी द्वारों में स्वास्थ्य कर्मी थर्मल स्कैनर के साथ खड़े रहेंगे। स्वास्थ्य में थोड़ी बहुत उतार चढ़ाव दिखने मात्र लोगों को एंबुलेंस के सहारे नजदिकी स्वास्थ्य केन्द्र में ले जाया जायेगा। सेनिटाइजेशन की भी पुरी व्यवस्था रहेगी। उन्होंने बताया कि सभी मतगणना केन्द्रों में पीपीई कीट भी रखे जायेंगे। उन्होंने कहा कि मतगणना केन्द्रों में एजेंट से लेकर सरकारी अधिकारी सुरक्षा कर्मी सभी के लिए गाइड लाइन को मानना जरूरी है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

सुसाइड प्वाइंट बनता जा रहा है विद्यासागर सेतु

हावड़ा ब्रिज पर रेलिंग लगने के बाद यहां पर लोगों की संख्या बढ़ी पिछले दो महीने में 5 लोगों को पुलिस ने आत्महत्या करने से बचाया सन्मार्ग आगे पढ़ें »

कोरोना संक्रमित पिता के इलाज खर्च जुगाड़ नहीं कर पाया, बेटा कुएं में कूद कर मरा

सन्मार्ग संवाददाता दुर्गापुर : प्राइवेट अस्पताल में भर्ती कोरोना संक्रमित पिता के इलाज का खर्च नहीं उठा पाने से तनावग्रस्त बेटे ने कुआं में कूदकर आत्महत्या आगे पढ़ें »

ऊपर