आज शहीद दिवस कार्यक्रम में उमड़ेगा जनसैलाब, ममता भरेंगी हुंकार

भीड़ और जाम के लिए सीएम ने मांगी मांफी
कहा – एक दिन अडजस्ट कर लें, यह दिन शहीदों व मां माटी मानुष को समर्पित
2024 के लिए दे सकती हैं बड़ा संदेश
ममता के भाषण पर टिकी देशभर की निगाहें
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : दो साल के अंतराल पर आज धर्मतल्ला में होने वाले शहीद दिवस कार्यक्रम में जनसैलाब उमड़ सकता है। इस बार की भीड़ पिछले रिकॉर्ड तोड़ सकती है। भारी भीड़ उमड़ने के कारण लोगों की परेशानी को ध्यान में रखते हुए पार्टी प्रमुख व सीएम ममता बनर्जी ने लोगों से अग्रिम माफी मांगी है। वहीं आ​​ज शहीद दिवस के मंच से सीएम हुंकार भरेंगी। 2024 के लोकसभा चुनाव को लेकर ममता बनर्जी बड़ा संदेश दे सकती हैं। ममता आज क्या कहती हैं इस पर देशभर के राजनीतिज्ञों व राजनीतिक पार्टियों की निगाहें टिकी हुई हैं। कार्यक्रम की पूर्व संध्या पर सीएम कार्यक्रम स्थल धर्मतल्ला गयीं। ममता बनर्जी ने कहा कि सभी के स्वार्थ के लिए नवबांग्ला तैयार करने की पुकार है। केंद्र में स्वेच्छाचारी सरकार चल रही है उसके खिलाफ हमारा यह कार्यक्रम है। सभी को आमंत्रित कर रही हूं। यह हमारे लिए ऐतिहासिक और यादगार दिन है। इस दिन से हमारी भावनाएं और स्वजन जुड़े हुए हैं। हमारे शहीदों के तर्पण व मां,माटी, मानुष के सम्मान का दिन है।
ममता ने कर्मियों से कहा, शांति व डिसिप्लीन से आएं
कार्यक्रम में भीड़ होगी, जिलों से सहकर्मी आ चुके हैं और आयेंगे। सभी से कहूंगी कि शांति से, डिसिप्लीन से आएं। रैली की शुरुआत से अंत तक सावधानी बरतें तथा धीरे-धीरे घर लौटें। वर्कर्स ही पार्टी की सम्पदा हैं। नेतृत्ववृंद से अनुरोध है कि ध्यान रहे, रास्ता से जब गाड़ी जायेगी तो ज्यादा तेजी से गाड़ी नहीं चलाएं। एक जिले होकर दूसरे जिले की रैली जायेगी, ऐसे में उन जिलों में कैंप करके व्यवस्था करें ताकि किसी को कोई परेशानी नहीं हो।
आज होगी भीड़, लगेगा जाम
ममता बनर्जी ने कहा कि शहीद दिवस कार्यक्रम से आवेग जुड़ा हुआ है। चूंकि यहीं पर (धर्मतल्ला, विक्टोरिया हाउस के सामने) घटना घटी थी इसलिए 30 सालों से यही कार्यक्रम करते आये हैं, जगह नहीं बदल सकते हैं। ममता ने कहा कि भीड़ होगी तथा रास्ता भी जाम होगा,प्लीज एक दिन के लिए आपलोग सहयोग करें। दो सालों बाद यह कार्यक्रम हो रहा है। कोविड के कारण दो सालों से यह कार्यक्रम नहीं हो पाया था। 2021 विधानसभा के बाद हमने कहा था कि 21 जुलाई को मां माटी मानुष को धन्यवाद दिया जायेगा। शहीदों के लिए ही यह कार्यक्रम है।
इस रास्तों को करें अवॉयड
धर्मतल्ला में तृणमूल कांग्रेस के शहीद दिवस कार्यक्रम के मद्देनजर महानगर में ट्रैफिक यातायात को नियंत्रित किया जाएगा। ऐसे में अगर आप धर्मतल्ला, सियालदह, हावड़ा की ओर आने का प्लान कर रहे हैं तो इन रास्तों को अवॉयड करें। खासतौर पर ब्रेबर्न रोड, सेंट्रल एवेन्यू, जेएल नेहरू रोड, एसएन बनर्जी रोड पर पुलिस की विशेष नजर रहेगी। सुबह से ही इन सड़कों पर वाहनों के यातायात को नियंत्रित किया जाएगा। भोर सुबह 3 बजे से लेकर रात 8 बजे तक शहर में सभी तरह के ट्रकों के प्रवेश पर रोक लगायी गयी है। इसके अलावा अम्हर्स्ट स्ट्रीट में उत्तर से दक्षिण, विधान सरणी (केसी सेन स्ट्रीट से विवेकानंद रोड ) में दक्षिण से उत्तर, कॉलेज स्ट्रीट में दक्षिण से उत्तर, ब्रेर्बन रोड में उत्तर से दक्षिण, स्ट्रैंड रोड पर दक्षिण से उत्तर, बीबी गांगुली स्ट्रीट पर पूर्व से पश्च‌िम, बेटिंक स्ट्रीट में दक्षिण से उत्तर, न्यू सीआईटी रोड में पश्च‌िम से पूर्व और रवीन्द्र सरणी में दक्षिण से उत्तर की तरफ वाहनों के यातायात को नियंत्रित किया जाएगा। इसके अलावा जरूरत पड़ने पर छोटी व बड़ी सड़कों से वाहनों को नियंत्रित किया जाएगा।
सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम
आ​ज महानगर में 4500 पुलिस, 30 डीसी, 70 एसीपी और 150 इंस्पेक्टर रैंक के अधिकारी तैनात रहेंगे।
3 क्यूआरटी, 58 पीसीआर,12 एचआरएफएस और डीएमजी टीम भी मौजूद रहेंगी। इसके साथ ही 10 जगहों पर जाएंट स्क्रीन लगेंगे तथा 7 महत्वपूर्ण जगहों से बड़ी रैलियां आयेंगी। वहीं शहीद दिवस पर सुरक्षा ड्यूटी में तैनात पुलिस कर्मी मोबाइल फोन का इस्तेमाल नहीं कर पायेंगे। इमरजेंसी या फिर ऑफिस काम के लिए ही केवल अनुमति होगी।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

एसएससी के पूर्व सलाहकारों की जमानत अर्जी खारिज

कोलकाता : एसएससी के दो पूर्व सलाहकार शांतिप्रसाद सिन्हा (एसपी सिन्हा) और अशोक साहा 7 दिनों के लिए सीबीआई की हिरासत में रहेंगे। सीबीआई के आगे पढ़ें »

ऊपर