बंगालः 4 मिनट में अचानक घट गया मतदान ! तृणमूल ने चुनाव आयोग से की शिकायत

कोलकाता : पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के लिए आज पहले चरण में 30 सीटों पर मतदान चल रहा है। लेकिन इस बीच मतदान प्रतिशत को लेकर तृणमूल कांग्रेस ने चुनाव आयोग से शिकायत की है। कुछ मतदान केंद्रों पर मतदान प्रतिशत अचानक से कम हो जाने के मुद्दे पर तृणमूल कांग्रेस की ओर से चुनाव आयोग में शिकायत दर्ज कराई गई है। टीएमसी ने चुनाव आयोग से मतदान प्रतिशत में गड़बड़ी की लिखित शिकायत की है। तृणमूल कांग्रेस ने कहा कि कांठी दक्षिण (216) और कांठी उत्तर (213) मतदान केंद्रों पर सुबह 9.13 बजे मतदान प्रतिशत क्रमशः 18.47% और 18.95% था लेकिन चार मिनट बाद 9.17 बजे यह घटकर क्रमशः 10.60% और 9:40% हो गया। पार्टी ने कहा कि यह गड़बड़ी है, चुनाव आयोग को इस पर संज्ञान लेना चाहिए। इससे पहले, तृणमूल कांग्रेस ने झाड़ग्राम और पश्चिम मिदनापुर जिले में बीजेपी पर वोटिंग प्रभावित करने का आरोप लगाया था। टीएमसी ने झाड़ग्राम के बूथ नंबर 218 पर बीजेपी कार्यकर्ताओं की ओर से ईवीएम खराब करने और पश्चिम मिदनापुर के गारबेटा विधानसभा क्षेत्र के बूथ नंबर 167 पर मतदाताओं को बूथ के अंदर न जाने देने का आरोप लगाया था। टीएमसी का आरोप है कि चुनाव अधिकारी भी उन्हें सपोर्ट कर रहे हैं। बहरहाल, आज दोपहर 12 बजे लोकसभा में टीएमसी संसदीय दल के नेता सुदीप बंद्योपाध्याय और राज्यसभा सांसद डेरेक ओ ब्रायन के नेतृत्व में 10 सांसदों का दल चुनाव आयोग के अधिकारियों से कोलकाता में मुलाकात की। बता दें कि पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के पहले चरण की वोटिंग आज हो रही है। पश्चिम बंगाल के पांच जिलों की 30 विधानसभा सीटों के लिए वोट डाले जा रहे हैं। बंगाल में सुबह 10 बजे तक 15.30 फीसदी मतदान दर्ज किया गया। बंगाल चुनाव के पहले चरण में जिन 30 सीटों पर चुनाव हो रहे हैं, वहां 191 उम्मीदवार अपनी किस्मत आजमा रहे हैं। 73 लाख से अधिक मतदाता 191 उम्मीदवारों की किस्मत का फैसला ईवीएम में कैद कर रहे हैं। इन 30 में अधिकतर सीटें नक्सल प्रभावित जंगल महल क्षेत्र में हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

विवाद : सुशांत सिंह राजपूत की बायोपिक पर प्रतिबंध की मांग, दिल्ली हाईकोर्ट ने मेकर्स को भेजा नोटिस

मुबंई : दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत के जीवन पर आधारित बायोपिक बनाने वाले निर्माताओं को दिल्ली हाई कोर्ट ने नोटिस जारी कर दिया है। आगे पढ़ें »

झारखंड में 22 से 29 अप्रैल तक कंप्लीट लॉकडाउन

रांची: झारखंड में कोरोना के बढ़ते संक्रमण के बीच सीएम हेमंत सोरेन ने आज मंगलवार को सीएम आवास में बैठक कर बड़ा फैसला लिया है। आगे पढ़ें »

ऊपर