ममता ने विपक्ष के नेताओं से लोकतंत्र बचाने के लिए एकजुट होने की अपील

कोलकाता : बंगाल में दूसरे चरण के मतदान से एक दिन पहले तृणमूल कांग्रेस की प्रमुख ममता बनर्जी ने आज बुधवार को विपक्षी दलों के नेताओं को चिट्ठी लिखी है। इस चिट्ठी के जरिए ममता ने लोकतंत्र बचाने के लिए विपक्षी दलों से एकजुट होने की अपील की है।

नंदीग्राम में चुनाव प्रचार मंगलवार शाम को खत्म होने के बाद टीएमसी नेता ममता बनर्जी ने आज गैर-बीजेपी नेताओं को व्यक्तिगत रूप ने चिट्ठी भेजी है। ममता बनर्जी ने चिट्ठी में लोकतंत्र को बचाने के लिए सभी विपक्षी दलों को बीजेपी के खिलाफ एकजुट होने की बात कही गई है। ममता की ओर से 15 गैर-बीजेपी नेताओं को यह चिट्ठी लिखी गई है।

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने अपनी चिट्ठी में लिखा, ‘मेरा मानना है कि लोकतंत्र और संविधान पर बीजेपी के हमलों के खिलाफ एकजुट और प्रभावी संघर्ष का समय आ गया है।’

ममता ने जिन नेताओं को चिट्ठी लिखी है उसमें कांग्रेस नेता सोनिया गांधी और अरविंद केजरीवाल जैसे नेताओं के नाम प्रमुख है। देश के 5 मुख्यमंत्रियों समेत कई नेताओं को यह चिट्ठी लिखी गई है।

कांग्रेस प्रमुख सोनिया गांधी के अलावा ममता बनर्जी ने एनसीपी नेता शरद पवार, डीएमके प्रमुख एमके स्टालिन, समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव, आरजेडी नेता तेजस्वी यादव, महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे, झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक, आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री जगन रेड्डी के अलावा केएस रेड्डी, फारूक अब्दुल्ला, महबूबा मुफ्ती और श्री दीपांकर भट्टाचार्य को भी पत्र लिखा है।

बंगाल विधानसभा चुनाव के दूसरे चरण की 30 सीटों पर 171 उम्मीदवारों की किस्मत का फैसला कल गुरुवार को होगा। 30 सीटों में दक्षिण 24 परगना की 4, पश्चिम मेदिनीपुर की 9, बांकुड़ा की 8 और पूर्व मेदिनीपुर की 9 सीटें शामिल हैं। 5 साल पहले 2016 के विधानसभा चुनाव में इन 30 सीटों में से टीएमसी ने 22 यानी 73 फीसदी सीटों पर जीत हासिल की थी, लेकिन 2019 के लोकसभा चुनाव में स्थिति पूरी तरह से बदल गई और बीजेपी ने शानदार प्रदर्शन किया था।

शेयर करें

मुख्य समाचार

यहां 18 लोगों से भरी पिकअप गंगा में समाई, 9 की मौत

दानापुरः बिहार में शुक्रवार सुबह दानापुर में पिकअप वैन गंगा नदी में गिर गई। इसमें 18 लोग सवार थे। 9 शव बरामद कर लिए गए आगे पढ़ें »

आज के 5 सरल उपाय बनाएंगे शुक्र ग्रह को शुभ, होगा लाभ ही लाभ

कोलकाताः शुक्र देव अथवा शुक्र ग्रह 'शुक्रवार' के स्वामी हैं। शुक्र ग्रह की प्रकृति राजसी हैं और धन, खुशी और प्रजनन का प्रतिनिधित्व करते हैं। आगे पढ़ें »

ऊपर