सत्ता की नहीं बंगाल के मर्यादा व मान-सम्मान की लड़ाई है इस बार : अभिषेक

पानीहाटी में तृणमूल उम्मीदवार के समर्थन में हुआ रंगारंग रोड शो
पानीहाटी : इस बार बंगाल में सत्ता और राजनीतिक लड़ाई नहीं है, यहां लड़ाई बंगाल के मान-मर्यादा और सम्मान की लड़ाई है क्योंकि केंद्र में बैठी भाजपा सरकार बंगाल को कुचल देना चाहती है। इसका मौका नहीं देना है और बाहरियों को उनके घर का रास्ता दिखाना है। अखिलभारतीय युवा तृणमूल के अध्यक्ष व सांसद अभिषेक बनर्जी ने यह बातें शुक्रवार को पानीहाटी में तृणमूल उम्मीदवार के समर्थन में रोड शो करने के बाद बीटी रोड धानकल मोड़ पर लोगों को संबोधित करते हुए कहा। उन्होंने कहा कि ये जो मंत्री, नेता आज लोगों के घरों के सामने वोट मांगते दिख रहे हैं वे तब बंगाल के लोगों के पास क्यों नहीं आये जब यहां लॉकडाउन में गरीब जनता को उनके मदद की जरूरत थी। बंगाल के प्रवासी श्रमिकों को हजारों किलोमीटर चलकर घर वापसी करनी पड़ी। वे आज बड़ी-बड़ी बातें कर रहे हैं मगर चुनाव के जाते ही वे यहां झांकने नहीं आयेंगे। उन्होंने कहा कि बंगाल की बेटी पर ही जनता का भरोसा है यह 3 चरणों के चुनाव में साबित हो चुका है। यहां 10 सालों के रिपोर्ट कार्ड और 10 अंगीकार को सामने रखकर तृणमूल के उम्मीदवार लोगों के बीच पहुंच रहे हैं जबकि भाजपा के नेताओं के पास सिर्फ जुमले हैं। अभिषेक बनर्जी ने इस​दिन पानीहाटी सीट पर 4 बार विधायक रह चुके निर्मल घोष को पांचवी बार भी जीताने की अपील करते हुए अमरावती मैदान से बीटी रोड धानकल मोड़ तक रोड शो में जनता के बीच हाथ हिलाकर उनका अभिवादन किया। रोड शो में भारी भीड़ देखी गयी।

शेयर करें

मुख्य समाचार

ऑक्सीजन कालाबाजारी मामला: नवनीत कालरा को तीन दिनों की पुलिस रिमांड में भेजा गया

नई दिल्ली: दिल्ली खान मार्केट में ऑक्सीजन कंसंट्रेटर की कालाबाजारी के आरोपी नवनीत कालरा को दिल्ली की साकेत कोर्ट ने तीन दिन की पुलिस रिमांड में आगे पढ़ें »

ममता बनर्जी के 2 मंत्री सहित 4 नेताओं को मिली जमानत

- सीबीआई की हिरासत की अर्जी खारिज कोलकाताः नारदा स्टिंग ऑपरेशन मामले में गिरफ्तार मंत्री सुब्रत मुखर्जी, मंत्री फिरहाद हकीम, पूर्व मे मेयर  शोभन चटर्जी और आगे पढ़ें »

ऊपर