बड़ी खबर : नहीं होगी कॉलेज और विश्वविद्यालय में प्रवेश परीक्षा

स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड के 19,000 आवेदन मिल चुके हैं

कोलकाता : कोरोना वायरस के प्रकोप के बाद से राज्य भर के सभी शैक्षणिक संस्थानों को बंद कर दिया गया है। पिछले साल से ही शिक्षण संस्थान को बंद करने का निर्णय लिया गया था जो अभी तक नहीं खुला है। लेकिन इस बीच नई गाइडलाइंस जारी की गई है। नए गाइडलाइंस में कहा गया है कि कॉलेज और विश्वविद्यालय में प्रवेश के लिए कोई और प्रवेश परीक्षा नहीं ली जाएगी। इससे पहले, छात्रों को कॉलेजों और विश्वविद्यालयों में प्रवेश परीक्षा देनी पड़ती थी। उस परीक्षा के नंबर के आधार पर छात्रों को कॉलेज और यूनिवर्सिटी में पढ़ने का मौका मिलता था। लेकिन अब से ऐसा नहीं होगा। अब से प्रवेश के लिए कोई आवेदन शुल्क नहीं लिया जा सकेगा। पहले छात्रों को एक निश्चित शुल्क देना पड़ता था। लेकिन अब से ऐसी कोई फीस नहीं देनी होगी। इस बीच, राज्य के कॉलेजों और विश्वविद्यालयों में प्रवेश प्रक्रिया अगले महीने से शुरू करनी होगी।

2 अगस्त से भर्ती प्रक्रिया शुरू

नए साल के स्नातक स्तर में प्रवेश की प्रक्रिया 2 अगस्त से शुरू हो रही है और 30 सितंबर को समाप्त होगी। सूत्रों के अनुसार शिक्षा मंत्री ब्रात्य बसु ने बोर्ड परीक्षाओं में प्राप्त अंकों के आधार पर स्नातक स्तर पर दाखिले की मांग की है लेकिन प्रेसीडेंसी समेत कई अन्य विश्वविद्यालयों ने परीक्षा लेने के मुद्दे पर दिलचस्पी दिखाई है।

मालूम हो कि कुलपतियों और शिक्षा मंत्री के बीच एक अहम बैठक हुई है। उस बैठक के बाद ये फैसले लिए गए। बैठक में उच्च माध्यमिक शिक्षा संसद के अध्यक्ष और बारासात राज्य विश्वविद्यालय की कुलपति महुआ दास शामिल थीं। शिक्षा मंत्री ब्रात्य बसु ने आगे कहा कि ममता बनर्जी की सरकार के नए प्रोजेक्ट स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड के लिए अब तक कुल 19,000 आवेदन मिल चुके हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्सहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

बड़ाबाजार में इमारत की छत से गिरकर व्यक्ति की मौत

आत्महत्या की या हुआ दुर्घटना का शिकार, जांच कर रही है पुलिस कोलकाता : बड़ा बाजार थानांतर्गत महात्मा गांधी रोड स्थित पारख कोठी की छत से आगे पढ़ें »

ऊपर