यूएस स्टूडेंट्स विजा एफ1 के लिए इतने आवेदन आये कि वेबसाइट हुई क्रैश

बार-बार प्रयास करने वाले छात्रों को 3 दिनों के लिए किया गया ब्लॉक
रात के 12 बजे से ही छात्र वेबसाइट खोलकर बैठे थे
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : कोलकाता ही नहीं बल्कि देश के हर हिस्से से छात्र-छात्राओं ने इतने अधिक आवेदन किये कि यूएस स्टूडेंट्स विजा एफ1 जारी करने वाली वेबसाइट ही क्रैश हो गयी। यही नहीं इन छात्रों में से कइयों को बार-बार विजा इंटरव्यू के लिए पेज खोलने व स्लॉट बुक करने की कोशिश के कारण 3 दिनों के लिए ब्लॉक कर दिया गया। अधिकतर भारतीय छात्रों को यूएस वि​जा के लिए अपॉइंटमेंट स्लॉट लेने में काफी परेशानी का सामना करना पड़ा। अपनी इन समस्याओं का समाधान हेतु इन छात्रों ने ट्विटर सहित अन्य सोशल मीडिया का सहारा लिया तथा वेबसाइट के लॉक होने की शिकायत तुरंत यूएस कांसुलेट कोलकाता व अन्य शहरों के कांसुलेट्स के ट्विटर हैंडल अकाउंट तथा अन्य सोशल मीडिया अकाउंट पर दी। छात्रों के मुताबिक वेबसाइट में अपॉइंटमेंट पेज को रीफ्रेश करने के बाद 72 घंटे तक के लिए उन्हें लॉक कर दिया गया और पेज लोड न होने के कारण साइट ही क्रैश हो गई। कोलकाता से हजारों की संख्या में छात्र व छात्राओं ने आवेदन किया है। सोमवार की सुबह विजा अपाइंटमेंट के लिए सुबह 8 बजे से साइट को खोला गया। कई छात्रों के मुताबिक भारतीय समय व यूएस के समय में अंतर होने के कारण वे विजा अपाइंटमेंट के लिए इतने बेचैन थे कि रविवार की मध्यरात्रि 12 बजे के बाद ही साइट खोलकर बैठ गये, कि जैसे पेज खुले, वे तुरंत अपाइंटमेंट के लिए अप्लाई कर दें लेकिन इसके उलट उनको 3 दिनों तक के लिए और इंतजार करना पड़ेगा। कोलकाता से यूएस की यूनिवर्सिटी में दाखिला ले चुके छात्रों के मुताबिक बिना विजा के जाना वहां संभव नहीं है और हमने हजारों डॉलर खर्च कर वहां पढ़ाई करने के लिए एडमिशन लिया हुआ है, अगर हमें यह विजा नहीं मिलता है तो हमारा भविष्य ही खराब हो जाएगा।
सोशल मीडिया पर छात्रों ने गिनवायी परेशानी
श्वेता ने कहा है कि हम लाॅग इन करने की कोशिश कर रहे थे और हमें 72 घंटों के लिए ब्लॉक कर दिया गया। उन्होंने गुस्से में लिखा है कि यूएस एम्बेसी आप कोई समस्याओं का समाधान नहीं कर रहे हैं बल्कि और ज्यादा असमंजस, स्ट्रेस तथा डाउट्स बढ़ा रहे हैं। आप लोगों को जो सबसे पहले करना चाहिए, वह यह है कि अपने खुद के साइट को बेहतर बनाना चाहिए ताकि ज्यादा ट्रैफिक हो तो, इसमें यह क्रैश न करे। विनय के मुताबिक कई छात्रों का अकाउंट 72 घंटे के लिए बंद कर दिया गया है। हम महीनों से इस अपॉइंटमेंट का इंतजार कर रहे थे। कम से कम लॉक करने की अवधि को ही कम कर दिया जाता। शाश्वत कुमार ने कहा कि एक तो साइट डाउन, ऊपर से छात्रों को ब्लॉक करना, यह सरासर गलत है। अपर्णा हरिकुमार व तुषार सुखवानी ने कहा कि अकाउंट फ्रीजिंग क्राइटेरिया को इस महामारी में हटा देना चाहिए। 4 घंटे से कोशिश करने के बाद भी विजा के लिए अपॉइंटमेंट नहीं मिला। सौरभ आनंद ने कहा कि मैं रात के 12 बजे से विजा स्लॉट बुक करने के लिए बैठा था, कई बार कोशिश करने के बाद मेरा डेली का लिमिट भी समाप्त हो गया और साइट भी मेंटेनेंस के लिए डाउन हो गया। सौम्यजीत चक्रवर्ती, सोहनजीत घोष, अमन शाह, सुचेतना गुप्ता, स्मिता राव आदि ने अपनी समस्याओं से यूएस कांसुलेट कोलकाता को अवगत करवाया है तथा उनके अकाउंट को जल्द ही अनफ्रीज करने को कहा है।
अमेरिकी कांसुलर ने पहले सावधानी बरतने के लिए कहा था
अमेरिकी कांसुलर अफेयर्स के मिनिस्टर काउंसलर डॉन हेफ्लिन ने गत 10 जून को इस बारे में घोषणा करते हुए कहा था कि सोमवार से विजा इंटरव्यू की शुरुआत भारतीय छात्रों के लिए हाे रही है। इस दौरान उन्होंने छात्रों को सावधानी बरतने के लिए खास तौर पर कहा था। यूएस एम्बेसी की ओर से उन्होंने कहा गया था कि हम पूरे भारत में पर्याप्त स्लॉट खोल रहे हैं ताकि छात्रों को निकटतम केंद्र में एक स्लॉट मिल सके। वहीं उन्होंने कहा था कि छात्रों को स्लॉट को कई बार रीफ्रेश नहीं करना चाहिए क्योंकि इससे उन्हें 72 घंटे के लिए ब्लॉक कर दिया जाएगा। वहीं यूएस कांसुलेट कोलकाता की ओर कहा गया है कि हम छात्र विजा अप्वॉइंटमेंट की उच्च मांग से अवगत हैं। कृपया याद रखें, बार-बार रीफ़्रेश न करें, क्योंकि आपका अकाउंट लॉक हो सकता है। अपॉइंटमेंट सभी पोस्ट्स पर उपलब्ध रहेंगे और हम शर्तों की अनुमति के अनुसार अप्वॉइंटमेंट को एड करना जारी रखेंगे।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्सहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

बड़ाबाजार में बस की चपेट में आने से यात्री की मौत

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : बड़ाबाजार थानांतर्गत स्ट्रैंड रोड पर मिनी बस की चपेट में आने से एख यात्री की मौत हो गयी। मृतक का नाम सुनील आगे पढ़ें »

ऊपर