डिस्चार्ज रेट में आई कुछ कमी, हेल्थ एक्सपर्ट ने किया आगाह

कोलकाताः राज्य में कोरोना वायरस के मामले बढ़े ही हैं। इस कारण देखा जा रहा है कि हाल के दिनों में कोरोना वायरस के मरीजों का डिस्चार्ज रेट भी कम हुआ है। हालांकि यह काफी न्यूनतम है। ऐसे में इस पर अधिक समस्या नहीं नजर आ रही है। राज्य में पॉजिटिविटी रेट भी बढ़ा है। हालांकि इसमें उतार व चढ़ाव जारी है। पॉजिटिविटी रेट गुरुवार को 32.77% दर्ज किया गया था। बेड अकुपेंसी अब भी राज्य में 6.38% है। ऐसे में यह एक बड़ी परेशानी नहीं है। इसके बावजूद रोजाना ही एक दिन में कोविड के मामले बढ़े ही आ रहे हैं, इसके लिए हेल्थ एक्सपर्ट लोगों को सतर्क रहने की सलाह दे रहे हैं।
वेस्ट बंगाल मेडिकल काउंसिल के सदस्य डॉ.पी.के.नेमानी ने कहा कि अब भी स्थिति बिगड़ी नहीं है। सबकुछ हम पर निर्भर है। यदि थोड़ी सी सजगता, जागरूकता जारी रहे तो हम आसानी से कोविड के बढ़ते संक्रमण पर आसानी से नियंत्रण पा सकते हैं।
वरिष्ठ फीजिशियन डॉ.एस.के.अग्रवाल ने कहा कि कोविड के मामले काफी तेजी से बढ़ रहे हैं। इसकी वजह है कोविड का नया वेरिएंट ओमिक्रॉन। ओमिक्रॉन की रफ्तार को रोका जाना असंभव सा नजर आ रहा है, हालांकि उम्मीद है कि जल्द ही धीरे-धीरे इसके मामले भी आना अब कम हो जाएंगे। यह हमारे लिए एक राहत की बात है।
तिथि-डिस्चार्ज रेट-पॉजिटिविटी रेट
25 दिसंबर-98.33%-1.71%
31 दिसंबर-98.14%-8.46%
5 जनवरी-96.85%-23.17%
10 जनवरी-93.85%-37.32%
13 जनवरी-91.77%-32.33%
14 जनवरी- 91.12%-31.14%
(नोट-आंकड़े स्वास्थ्य व परिवार कल्याण विभाग, पश्चिम बंगाल)

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

इंदौर में बम फटने से दो की मौत, 15 से अधिक घायल

इंदौर : इस वक्त की बड़ी खबर आ रही है की इंदौर में बम फटने के बाद दो की मौत के बाद भारी संख्या में आगे पढ़ें »

ऊपर