भाजपा के गुण्डों के लिए यहां की महिलाएं ही काफी है : ममता

ममता की बंगाल के महिलाओं से अपील, भाजपा के गुण्डों का मुकाबला करछी से करे
प्रथम चरण के वोटों पर कहा, भाजपा होगी रफा-दफा
मोदी पर बोला हमला, बांग्लादेश में बंगाल पर बात करना आचार अंहिता का उल्लंघन
सन्मार्ग संवाददाता
मिदनापुर/हावड़ा : विधानसभा चुनाव के प्रथम चरण का मतदान शनिवार को सम्पन्न हुआ। इस बीच दूसरे चरण के मतदान के लिए चुनावी प्रचार भी जोर-शोर से शुरु कर दिया गया। मिदनापुर और हावड़ा में ममता बनर्जी ने चुनावी सभा की जहां उन्होंने एक बार फिर भाजपा पर जमकर निशाना साधा। ममता बनर्जी पहले से ही कहती आयी है कि इस चुनाव में भाजपा बाहरी गुण्डों को माहौल खराब करने के लिए भेज रही है। शनिवार को इस बात को दोहराते हुए ममता ने यहां की महिलाओं को भाजपा के गुण्डों को संभालने के लिए करछी का इस्तेमाल करने की अपील की।
मोदी ने किया आचार संहिता का उल्लंघन
ममता ने मोदी पर तंज कसते हुए कहा कि यहां चुनाव चल रहे है और प्रधानमंत्री बांग्लादेश जाकर बंगाल पर बात कर रहे है। इस तरह बंगाल को लेकर बात करना आचार संहिता का उल्लंघन है। दूसरी बात ऐसा करके मोदी वहां वोट की राजनीति कर रहे है। ममता ने कहा कि बांग्लादेश के एक कलाकार जब पश्चिम बंगाल में आकर टीएमसी के पक्ष में चुनाव प्रचार की रैली में भाग लिया था तो केंद्र की सरकार ने उनका वीजा रद्द कर दिया था, लेकिन अब देश के कई राज्यों में हो रहे विधानसभा चुनाव के दौरान ही पीएम नरेंद्र मोदी बांग्लादेश चले गए हैं। ममता ने आरोप लगाया कि निर्वाचन आयोग के नियमों का उल्लंघन कर पीएम बांग्लादेश में जाकर एक वर्ग विशेष से वोट मांगने आए हैं। ममता ने पीएम के दौरे की शिकायत चुनाव आयोग से करने की बात कहते हुए उनका भी पासपोर्ट व वीजा रद्द किए जाने की मांग उठाई।
भाजपा रफा-दफा
ममता ने कहा कि प्रथम चरण के मतदान के बाद भगवा पार्टी की किस्मत सील हो जाएगी। उन्होंने चुनाव आयोग से भी यह सुनिश्चित करने का आग्रह किया कि मतदान निष्पक्ष तरीके से हो। ममता ने केंद्रीय गृह मंत्री पर तंज करते हुए कहा, ‘दिल्ली के अमित शाह बंगाल में मतदान कराना चाहते हैं। चुनाव आयोग से मैं अनुरोध करती हूं कि उसे यह सुनिश्चित करना चाहिए कि चुनाव स्वतंत्र, निष्पक्ष और बगैर पक्षपात के हो।’
अधिकारी परिवार को कहा गद्दार
पश्चिम मिदनापुर के नारायणगढ़ और पिंगला में की गयी चुनावी रैलियों को संबोधित करते हुए ममता ने अपने प्रतिद्वंद्वी शुभेंदु अधिकारी और उनके परिवार को गद्दार करार दिया। ममता ने आरोप लगाया कि इस परिवार का एक सदस्य राज्य में 30 विधानसभा सीटों पर मतदान होने से कुछ घंटे पहले शुक्रवार रात लोगों को नोट बांट रहा था। उन्होंने कहा, ‘कल, अधिकारी बंधुओं में एक को नोट बांटते देखा गया था…इलाके में महिलाओं ने उसे रंगे हाथ पकड़ लिया और पुलिस को उसे गिरफ्तार करने को कहा। उन्होंने 30 से अधिक गुंडों को भी (पुलिस के) हवाले किया, जिन्हें भाजपा ने बाहर से मंगाया था।’ ममता ने कहा कि वह नंदीग्राम विधानसभा क्षेत्र में मीरजाफरों पर भी नजर रखी हुई हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

जम्मू कश्मीर में सुरक्षाबलों ने 72 घंटे में मार गिराए 12 आतंकी

श्रीनगर: जम्मू-कश्मीर में आतंकवादियों के खिलाफ सुरक्षाबलों को बड़ी सफलता मिली है। पिछले 72 घंटे में सुरक्षाबलों ने 12 आतंकवादियों को मार गिराया गया है। आगे पढ़ें »

बोले केजरीवाल नहीं चाहते लॉकडाउन पर मजबूरी में कुछ पाबंदियों के दिए आदेश

नई दिल्ली : दिल्ली में कोरोना के बढ़ते मामलों के मद्देनजर दिल्ली सरकार ने शनिवार को सख्त पाबंदियों की घोषणा की थी। इसके बाद आज आगे पढ़ें »

ऊपर