पश्चिम बंगाल के राज्यपाल ने स्वामी विवेकानंद विश्वविद्यालय विधेयक को मंजूरी दी

kol

कोलकाता : पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने स्वामी विवेकानंद विश्वविद्यालय विधेयक, 2019 को स्वीकृति दे दी है। राज्य विधानसभा ने इस वर्ष 1 सितम्बर को इस विधेयक को पारित किया था। मंगलवार को जारी किए गए राजभवन के एक बयान में यह कहा गया है कि राज्यपाल ने भारत के संविधान के अनुच्छेद 200 के अनुरूप अपनी सहमति दी है। जिसमें यह कहा गया है कि ‘पश्चिम बंगाल विधानसभा के अध्यक्ष ने 1 सितम्बर, 2019 को विधेयक पारित किया था एवं संबंधित विभाग की जांच के बाद 6 नवम्बर को इसे राज्यपाल के पास उनके विचार के लिए भेज दिया गया था।’

बैरकपुर में स्थापित होगा स्वामी विवेकानंद विश्वविद्यालय

स्वामी विवेकानंद विश्वविद्यालय विधेयक 2019 के अनुसार एक विश्वविद्यालय का नाम स्वामी विवेकानंद के नाम पर रखा जायेगा और इसे उत्तर 24 परगना जिले के बैरकपुर में स्थापित किया जायेगा। इस विश्वविद्यालय को एक निजी विश्वविद्यालय का दर्जा दिया जाएगा, जिसे भारतीय ट्रस्ट अधिनियम, 1882 के तहत पंजीकृत एक शैक्षिक और धर्मार्थ ट्रस्ट द्वारा बढ़ावा दिया जाएगा। विश्वविद्यालय का गठन किये जाने का प्रस्ताव मिलने के बाद उच्च शिक्षा विभाग ने पश्चिम बंगाल राज्य विश्वविद्यालय के कुलपति की अध्यक्षता में एक समिति का गठन किया था।

समिति ने राज्य सरकार से की थी सिफारिश 

उच्च शिक्षा विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि ‘समिति ने राज्य सरकार से सिफारिश की थी कि निजी शैक्षणिक ट्रस्ट को प्रस्तावित विश्वविद्यालय स्थापित करने की अनुमति दी जा सकती है जो स्वामी विवेकानंद के आदर्शों और मूल्यों को महत्व देगा।’ इस संबंध में एक विधेयक को राज्य विधानसभा में पारित किया गया था। विधेयक में कहा गया है कि ‘राज्य सरकार (इस प्रस्तावित विश्वविद्यालय) की किसी भी वित्तीय जिम्मेदारी को वहन नहीं करेगी क्योंकि उसे स्व-वित्तपोषित दर्जा दिये जाने की घोषणा की गई है।’

शेयर करें

मुख्य समाचार

dhankhad

सीयू हंगामा : 28 जनवरी ब्लैक डे, शर्म से झुक गया सिर – राज्यपाल

बहुत पीड़ा हो रही है, हिल गया हूं पूरी तरह कर्तव्य पूरा करने से कोई नहीं रोक सकता छात्राओं को खुली बातचीत करने का प्रस्ताव सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : आगे पढ़ें »

बंगाल में सीएए के खिलाफ अवरोध कर रहे लोगों पर बमबाजी व फायरिंग, 2 मरे

मुर्शिदाबाद के जलंगी की घटना तृणमूल के ब्लॉक अध्यक्ष के खिलाफ एफआईआर सन्मार्ग संवाददाता मुर्शिदाबाद / कोलकाता : देश में पहलीबार सीएए के खिलाफ धरना देने वालों पर आगे पढ़ें »

ऊपर