बनने से पहले ही तोड़ने के कगार पर आया ‘अभिशप्त’ फ्लाईओवर

एक हादसे ने बदल दिया पोस्ता फ्लाईओवर का भविष्य
तोड़ने की तैयारी हुई पूरी, लाये गये अत्याधुनिक उपकरण
फ्लाईओवर को नये सिरे से बनाने के लिए किया जाएगा स्पेशल सर्वे
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता: समस्या जाम की थी इसलिए काफी सोच-विचार कर पोस्ता फ्लाईओवर की रूपरेखा तैयार की गयी थी। परियोजना बनी, काम भी शुरू हुआ, समय के साथ परियोजना बढ़ती गयी, इसी बीच 2016 की 31 मार्च की सुबह ऐसा हादसा हुआ जिसने इस फ्लाईओवर का भविष्य ही बदल कर रख दिया। पोस्ता फ्लाईओवर का निर्माणधीन एक हिस्सा अचानक गिर गया जिसमें करीब 28 लोगों की मौत हो गयी और 50 से अधिक लोग घायल हुए। इतनी भयंकर दुर्घटना के बाद सरकार भी सकते में आ गयी कि आखिर इस फ्लाईओवर के साथ करना क्या है। तमाम चर्चाओं के बीच आखिरकार तय किया गया कि यह फ्लाईओवर पूरी तरह तोड़ा जाएगा, भविष्य में क्या होगा यह जल्द तय होगा।
अत्याधुनिक उपकरणों के साथ तोड़ने की तैयारी शुरू
केएमडीए अधिकारी ने बताया कि फ्लाईओवर को तोड़ने की तैयारी पूरी कर ली गयी है। पोस्ता इलाके में अत्याधुनिक उपकरण भी आ गये हैं। फ्लाईओवर को तोड़ने के लिये डायमंड कटर, हैवी ड्यूटी लिफ्टिंग मशीन, ट्रेसल्स, अर्थ मूवर्स समेत बाकी उपकरणों का इस्तेमाल किया जाएगा। केएमडीए के अधिकारी ने बताया कि इन मशीनों का इस्तेमाल बड़े और मजबूत फ्लाईओवर या ब्रिजों को तोड़ने में होता है।
इलाके में की जा रही टिन के शेड की बैरिकेडिंग
पोस्ता फ्लाईओवर को तोड़ने की शुरुआत 15 जून से होनी है। इसकी तैयारी भी पूरी हो चुकी है। तोड़ने के दौरान इलाके में कहीं कोई दिक्कत न आये, सुरक्षा की पूरी व्यवस्था हो उसके लिए प्रशासन की तरफ से चौकसी बढ़ा दी गयी है। फुटपाथ के दोनों ओर टिन के शेड की बैरिकैडिंग कर दी गयी है। सड़क के किनारे से इलेक्ट्रिक पोल को भी हटाया जा रहा है।
चार चरणों में टूटेगा फ्लाईओवर
केएमडीए के अधिकारी ने बताया कि फ्लाईओवर को चार चरणों में तोड़ा जाएगा। पहले चरण का काम पूरा होने में 45 दिनों का वक्त लगेगा जो स्ट्रैंड रोड से पोस्ता तक का हिस्सा होगा। यह हिस्सा काफी जटिल है तथा इसके आसपास पोस्ता बाजार है, जो एक भीड़भाड़ वाला इलाका है अर्थात सावधानियों के साथ इस काम को पूरा करना होगा। बाकी तीन चरणों में गणेश टॉकीज से गिरीश पार्क तक का हिस्सा, पोस्ता क्रॉसिंग से गणेश टॉकीज तक का हिस्सा और अंत में जो हिस्सा गिरा था उसे तोड़ा जाएगा।
कभी न भूलने वाली घटना है फ्लाईओवर टूटने का हादसा
पोस्ता फ्लाईओवर टूटने का हादसा कभी न भूलने वाली घटना है। इसमें करीब 28 लोगों की जान गयी थी और 50 से अधिक लोग बुरी तरह घायल हुए थे। आज भी उस तरफ से गुजरने वाले लोगों में इस घटना की याद ताजा हो जाती है। वहां रहने वाले लोग आज भी आतंकित हो जाते हैं जब इस घटना का जिक्र आता है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्सहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

घर में लड़ाई-झगड़ा खत्म करने के लिए करें ये 5 उपाय, मिलेगी शांति

कोलकाता : आज के समय अधिकतर घरों में ग्रह कलह या लड़ाई झगड़े होना आम बात हो गई है। घरों होने वाले यह इन झगड़ों आगे पढ़ें »

ऊपर