भाटपाड़ा में थाना घेराव के दौरान फैला तनाव, पुलिस ने किया लाठीचार्ज

युवती की हत्या मामले में अभियुक्त की गिरफ्तारी की मांग को लेकर क्षोभ
प्रदर्शन के दौरान ही दो गुट भिड़े, रैफ उतारनी पड़ी
भाटपाड़ा : भाटपाड़ा में एक युवती का अपहरण कर उसकी हत्या कर रेल लाइन पर फेंकने के मामले को हादसा साबित करने का आरोप लगाते हुए बुधवार को मृतका के परिवारवालों व स्थानीय निवासियों ने भाटपाड़ा थाने के सामने घेराव-प्रदर्शन किया। आरोप है कि इस प्रदर्शन के दौरान कुछ लोगों को रास्ता पार करने में बाधा दिये जाने पर थाने के सामने ही प्रदर्शनकारियों व विपरीत गुट में मारपीट भी लग गयी जिसे देखते हुए पुलिस को कार्रवाई करनी पड़ी। इसको लेकर ही वहां बवाल मच गया। हाथापाई और फैली हिंसा के बीच परिस्थिति को संभालने के लिए पुलिस ने लाठीचार्ज किया। आरोप है कि इससे मामला और बिगड़ गया। लोगों ने घोषपाड़ा रोड को ब्लॉक कर पुलिसिया कार्रवाई के विरुद्ध क्षोभ जताना शुरू किया जिस पर आखिरकार रैफ उतारकर व अतिरिक्त पुलिस बल का प्रयोग करते हुए पुलिस ने परिस्थिति पर काबू पाया। वहीं पुलिस ने इस मामले में कई लोगों को गिरफ्तार भी कर ​लिया। यहां बता दें कि भाटपाड़ा पालिका के 13 नंबर गली आर्यसमाज मोड़ निवासी 18 साल की वह युवती रविवार की शाम से लापता थी और इसके दूसरे दिन यानी सोमवार को उसका शव 28 नंबर रेल गेट इलाके से बरामद किया गया था। वह रविवार की शाम 50 रुपये लेकर घर से साइबर कैफे जाने को कहकर घर से निकली थी और फिर नहीं लौटी। बुधवार की सुबह एक युवक ने उसका मोबाइल फोन उसके घर पहुंचाते हुए परिवारवालों को कहा कि वह मोबाइल फोन बनाने के लिए दे गयी थी मगर लेने नहीं आयी। मृतका के भाई ने आरोप लगाया है कि जिन परिस्थितियों में शव मिला था उससे यह साफ हो रहा था कि उसके साथ दरिंदगी कर उसकी हत्या की गयी है। उसके चेहरे को भी बिगाड़ दिया गया था ताकि उसकी पहचान न हो सके। उसने आरोप लगाया कि पुलिस ने पहले इस मामले को हादसा ही साबित करना चाहा था मगर बुधवार की शाम को जब हम भाटपाड़ा थाने में रेप और हत्या का मामला दर्ज करवाने पहुंचे तो पुलिस ने शिकायत लेने से मना कर दिया। उसने आरोप लगाया कि इस घटना की छानबीन कर हत्यारों की गिरफ्तारी की उनकी मांग जारी रहेगी। वहीं उसने आरोप लगाया कुछ और कारणों से प्रदर्शन करने के दौरान उन्हें हटाने की कोशिश में ही कुछ लोगों ने बवाल किया है और पुलिस ने निरंकुश होकर हम पर ही लाठीचार्ज कर दिया। वहीं इस घटना को लेकर कमिश्नरेट के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि मिली शिकायतों पर छानबीन की जा रही है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

तीसरी लहर के संकेत: देश में कोरोना विस्फोट, एक साथ…

नई दिल्लीः दुनिया में जहां कोरोना के नए वैरिएंट 'ओमिक्रॉन' के सामने आने के बाद से लोगों में दहशत है वहीं महाराष्ट्र के भिवंडी में कोरोना आगे पढ़ें »

ऊपर