बंगाल में चुनाव बाद हिंसा : केंद्र व राज्य को सुप्रीम कोर्ट की नोटिस

सन्मार्ग संवाददाता
नयी दिल्ली/कोलकाता : पश्चिम बंगाल में चुनाव बाद हिंसा को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र और राज्य सरकार को एक नोटिस दी है। केंद्र और राज्य सरकार को इस पीआईएल में उठाए गए मुद्दों के बाबत जवाब देना है। इस बाबत दायर पीआईएल पर सुनवायी के बाद जस्टिस विनीत सरण और जस्टिस बी आर गवई के डिविजन बेंच ने यह आदेश दिया है। इस पीआईएल में हिंसा पीड़ितों को मुआवजा और घर से बेघर हुए लोगों के पुनर्वासन के लिए आदेश देने की अपील की गई है। इसमें कहा गया है कि एक लाख से अधिक लोगों को चुनाव बाद हिंसा के कारण घर छोड़ कर भागना पड़ा है। चुनाव बाद करीब 16 लोगों की हत्या की गई है।
डिविजन बेंच ने केंद्र और राज्य सरकार को आदेश दिया है कि वे इस पीआईएल में उठाए गए मुद्दों का जवाब इस तरह दे ताकि सात जून से शुरू होने वाले सप्ताह में इसकी सुनवायी की जा सके। ‌इस मामले में पैरवी कर रहीं वरिष्ठ एडवोकेट पिंकी आनन्द की अपील पर राष्ट्रीय मानवाघिकार आयोग, राष्ट्रीय महिला आयोग और राष्ट्रीय अनुसूचित जाति एवं जनजाति आयोग को रेस्पंडेंट बनाया गया है। अरुण मुखर्जी और अन्य की तरफ से यह पीआईएल दायर की गई है। इसमें पीड़ितों के पुनर्वासन के लिए एक आयोग का गठन करने का आदेश देने की अपील की गई है। इसमें कहा गया है कि राज्य की तरफ से प्रायोजित हिंसा में पुलिस मूक दर्शक की भूमिका निभा रही है। इसके साथ ही अपील की गई है कि यह आकलन किया जाए कि क्या राज्य सरकार की मशीनरी हिंसा करने वाले गुंडो के साथ तालमेल करके काम कर रही है। इस पीआईएल में अपील की गई है कि विस्थापितों को राहत पहुंचाने के लिए आदेश दिया जाए। इसके साथ ही कहा गया है कि केंद्र सरकार को आदेश दिया जाए वह इस पूरे प्रकरण की जांच के लिए एक आयोग का गठन करे। केंद्र सरकार को आदेश दिया जाए कि वह राज्य में कानून व्यवस्था की बहाली के लिए सेना और केंद्रीय वाहिनी तैनात करे। इसके साथ ही पीड़ितों की तरफ से दर्ज और दर्ज किये जाने वाले मामलों की सुनवायी के लिए फास्ट ट्रैक कोर्ट का गठन किए जाने का आदेश दिया जाए।

शेयर करें

मुख्य समाचार

बंगालः दो वर्षों से सरकारी मदद की आस में टकटकी लगाये हैं दिव्यांग दंपति

पेड़ गिरने से इस दंपति का घर बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गया था नागराकाटा : पेड़ गिरने से दो वर्ष पूर्व क्षतिग्रस्त घर के मालिक को आगे पढ़ें »

अगर आप भी है अपने बढ़ते वजन से परेशान तो आज से ही खाना शुरु करें ये चीज

कोलकाताः भारत ही नहीं बल्कि दुनिया के लगभग हर देश में बढ़ते वजन को लेकर लोग परेशान है। ऐसे में वजन कम करने के लिए आगे पढ़ें »

ऊपर