राज्य में ओवरलोडिंग रोकने के लिए सरकार की कड़ी कार्रवाई

सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : राज्य में ओवरलोडिंग एक गंभीर समस्या है। इससे न केवल दुर्घटनाएं घटती है बल्कि सरकार को इससे काफी नुकसान भी उठाना पड़ता है। सीएम ममता बनर्जी लगातार कहती आयी हैं कि ओवरलोडिंग के कारण ब्रिज, रास्ते का नुकसान उठाना पड़ता है। अब राज्य सरकार ओवरलोडिंग को लेकर कड़ा कदम उठाने जा रही है। मंगलवार को परिवहन मंत्री का पदभार संभालते हुए फिरहाद हकीम ने कहा कि ओवरलोडिंग किसी भी हाल में बर्दाश्त नहीं की जायेगी। ओवरलोडिंग से केवल नुकसान ही है। यह एक भ्रष्टाचार है। ओवरलोडिंग को लेकर फाइन को बढ़ाया जायेगा। लोडिंग देखने के लिए मुवभेवल वेब ब्रिज लगाया जायेगा। हालांकि फाइन कितना बढ़ाया जायेगा इसे लेकर अभी मंत्री ने स्पष्ट नहीं किया है। उन्होंने कहा कि ओवरलोडिंग से रास्ते खराब हो रहे हैं। बड़े बड़े वाहन राज्य में घुसते हैं और प्रदुषण को दुषित करते हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

पैरेंट्स ने नहीं दिलाया कुत्ता तो बेटे ने कर ली…

विशाखापट्टनम : एक नाबालिग लड़के ने सिर्फ इसलिए खुदकुशी कर ली कि उसे माता-पिता ने घर में पालने के लिए कुत्ता लाने से मना कर आगे पढ़ें »

5000 हेल्थ अस्टिटेंट को दी जाएगी मरीजों की देखभाल की ट्रेनिंग : केजरीवाल

नई दिल्ली : राज्यों ने जानलेवा कोरोना वायरस की संभावित तीसरी लहर से निपटने की तैयारी शुरू कर दी है। इसी क्रम में दिल्ली सरकार भी आगे पढ़ें »

ऊपर