14 हजार अपर प्राइमरी टीचरों की नियुक्ति पर स्टे

हाई कोर्ट के जस्टिस गंगोपाध्याय ने दिया आदेश
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : हाई कोर्ट ने अपर प्राइमरी में साढ़े 14 हजार टीचरों की नियुक्ति प्रक्रिया पर बुधवार को स्टे लगा दिया। पिटिशनरों की तरफ से एसएससी रूल्स की अवहेलना की जाने का आरोप लगाते हुए हाई कोर्ट में रिट दायर की थी। जस्टिस अभिजीत गंगोपाध्याय ने मामले की सुनवायी के बाद नियुक्ति पर अंतरिम स्टे लगा दिया। इसकी सुनवायी अगले शुक्रवार को होगी।
एडवोकेट‌ विक्रम बनर्जी ने यह जानकारी देते हुए बताया‌ कि जस्टिस गंगोपाध्याय ने एसएससी को आदेश दिया है कि वह अगले शुक्रवार को यह बताये कि इंटरव्यू लिस्ट तैयार करते समय एसएससी रूल्स का पालन कहां तक किया गया है। दूसरी तरफ पिटिशनरों ने आरोप लगाया है कि इंटरव्यू लिस्ट में एसएससी रूल्स के मुताबिक पूरा ब्योरा नहीं दिया गया है। इस तरह एसएससी रूल्स का पालन नहीं किया गया है। इंटरव्यू लिस्ट में पारदर्शिता नहीं है। जिनके नंबर कम हैं उनके नाम उपर कर दिए गए हैं। जिनके अधिक नंबर हैं उनके नाम नीचे कर दिए गए हैं। प्रमाण देते हुए यह आरोप लगाया गया। इसके साथ ही ट्रेंड और अनट्रेंड के नियम का भी पालन नहीं किया गया है। एडवोकेट बनर्जी ने बताया कि इंटव्यू लिस्ट का प्रकाशन 22 जून को किया गया था और पांच जूलाई से इंटरव्यू लिए जाने की प्रक्रिया शुरू होगी। उन्होंने बताया कि इसी आधार पर पिछली बार जस्टिस मौसमी भट्टाचार्या ने नियुक्ति प्रक्रिया को खारिज कर दिया था। इधर राज्य सरकार शिक्षकों के 32 हजार पदों पर नियुक्तियां करना चाहती है और इसी प्रक्रिया के तहत साढ़े 14 हजार टीचरों की नियुक्ति के लिए इंटरव्यू लिस्ट का प्रकाशन किया गया था।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्सहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

स्टाफ स्पेशल ट्रेन में आम यात्री भी चढ़े

हुगली : लॉकडाउन की वजह से राज्य में लोकल ट्रेनों का परिचालन बंद है। स्टाफ स्पेशल ट्रेनें चल रही है जिसमें आम यात्रियों को यात्रा आगे पढ़ें »

ऊपर