आयोग से आवश्यक प्रशिक्षण की प्रक्रिया जोरों पर

भेजे जा रहे प्रशिक्षण के सामान
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाताः राज्य चुनाव आयोग की ओर से आवश्यक प्रशिक्षण की तैयारियों को लेकर काफी तत्परता बरती जा रही है। शनिवार को भी आयोग के कार्यालय से काफी प्रशिक्षण के सामान भेजे गए। माना जा रहा है कि चुनाव आयोग जिलों में सभी प्रकार की तैयारियां पूरी रखना चाहता है। इस साल देश के चार राज्यों (पश्चिम बंगाल, तमिलनाडु, केरल और असम) सहित एक केंद्र शासित प्रदेश (पुडुचेरी) में विधानसभा चुनाव होने हैं। चुनाव की तारीखों का ऐलान जल्द हो सकता है। सूत्रों की माने तो चुनाव आयोग फरवरी के तीसरे हफ्ते में तारीखों का ऐलान कर सकता है। चुनाव आयोग के सूत्रों की मानें तो 16 या 18 फरवरी के बीच चुनाव की घोषणा हो सकती है। इससे पहले चुनाव आयोग पिछले दिनों बंगाल के दौरे पर आया था। उस दौरान मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने भी साफ कहा था कि समय पर ही चुनाव होंगे।
आयोग चाहता है सीबीएसई, माध्यमिक व उच्च माध्यमिक की परीक्षाओं से पहले हो जाए चुनाव-
चुनाव आयोग की सूत्रों की मानें तो आयोग के अधिकारी चाहते हैं कि सीबीएसई, माध्यमिक व उच्च माध्यमिक की परीक्षा से पहले ही विधानसभा चुनाव हो जाएं। सीबीएसई परीक्षा मई के दूसरे हफ्ते से शुरू हो रही है। राज्य में माध्यमिक (कक्षा 10वीं) की परीक्षा 1 जून से व उच्च माध्यमिक यानी कि 11वीं और 12वीं की परीक्षा 15 जून से प्रारंभ होकर 2 जुलाई, 2021 को खत्म होगी। 12वीं कक्षा की परीक्षा 15 जून से 30 जून तक व 11वीं की परीक्षा 15 जून से 2 जुलाई तक आयोजित की जाएगी। चुनाव संपन्न करवाने के लिए चुनाव आयोग को कम से कम 27 से लेकर 42 दिनों तक का समय चाहिए। ऐसे में विभिन्न परीक्षाओं को देखते हुए चुनाव आयोग फरवरी के तीसरे हफ्ते में ही चुनाव के लिए तारीखों का एेलान कर सकता है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

पानी की टंकी में डाल दें इन में से 1 चीज, पैसों की किल्लत होगी दूर

कोलकाताः हर किसी को अच्छा जीवन बीताने के लिए आर्थिक तौर पर सक्षम होना जरूरी है। मगर बहुत बार मेहनत करने के बावजूद भी व्यक्ति आगे पढ़ें »

टीएमसी नेता कुणाल घोष ने ईडी को भेजा नोटिस, आज होगी पेशी

कोलकाताः पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के मद्देनजर टीएमसी नेताओं पर केंद्रीय एजेंसियों ने शिकंजा कसना शुरू कर दिया है। अब टीएमसी नेता कुणाल घोष को आगे पढ़ें »

ऊपर