अन्य राज्यों से ही नहीं जिलों से भी कोलकाता आयी स्पेशल टीम

कोलकाता : अम्फान के बाद अब यास की बारी है। यास से मुकाबला करने के लिए अन्य राज्यों से एनडीआरएफ की टीम तो आयी ही है। अब राज्य के अन्य जिलों से भी टीमें आ रही है। तूफान के दौरान और उसके बाद की स्थिति को संभालने के लिए उत्तर बंगाल वन विभाग के 40 दक्ष कर्मी कोलकाता आये हैं। कोरोना के पहले चारण के दौरान बीते वर्ष अम्फान तूफान ने पश्चिम बंगाल समेत देश का कई राज्यों में तबाही मचाई थी। एक वर्ष बाद कोरोना के दूसरे स्ट्रेन के इस आतंकित काल मे यास नामक चक्रवात पश्चिम बंगाल के साथ देश के कई हिस्सों से टकराने वाला है। विशेषज्ञों की माने तो यास तूफान काफी तेज रफ्तार के साथ बुधवार को बंगाल में प्रवेश करेगा। यास की रफ्तार के आंकलन करते हुए भारी क्षति की संभावना मौसम विभाग ने जतायी है। यास से निपटने के लिए केंद्रीय सरकार ने हाई अलर्ट जारी किया है। पश्चिम बंगाल सरकार से बात-चीत कर राज्य में एनडीआरएफ की टीम के साथ अन्य आवश्यक उपकरण आदि की व्यवस्था की है। वहीं राज्य के जिलों से भी आपदा से निपटने वाली टीम को यहां बुलाया गया है। इसी क्रम में उत्तर बंगाल के कर्सियांग वन विभाग, बैकुंठपुर फॉरेस्ट डिविज़न और सुकना वन रेंज से 40 दक्ष कर्मियों का चयन कर इन्हें कोलकाता भेजा गया है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

पंजाब में ग्रीन फंगस का पहला केस

कोविड-19 से उबर चुके शख्‍स में दिखे लक्षण चंडीगढ़ : पंजाब में ग्रीन फंगस का पहला मामला सामने आया है। कोविड-19 से उबर चुके एक शख्‍स आगे पढ़ें »

दिल्‍ली में फिर भूकंप के झटके

पंजाबी बाग इलाके में डोली धरती नई दिल्‍ली : राष्‍ट्रीय राजधानी दिल्‍ली में रविवार को एक बार फिर भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं। भूकंप आगे पढ़ें »

ऊपर