ताकि चकमा न दे कोविड, जिनोमिक्स सिक्वेंसिंग केवल .5% जरूरत 3%-4% की

67%-70% में सेकेंड वेव में हो चुका है इंफेक्शन
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाताः कोरोना वायरस महामारी के सेकेंड वेव का असर धीरे-धीरे खत्म हो रहा है। हालांकि अब थर्ड वेव की चर्चा जारी है। इस बीच एक्सपर्ट इसे लेकर अलग-अलग सलाह दे रहे हैं। वरिष्ठ कार्डियक सर्जन डॉ. कुणाल सरकार ने कहा कि कोविड के सेकेंड वेव के कहर से लोग उबर रहे हैं। हालांकि हमें थर्ड वेव के प्रति सतर्क रहना होगा। ऐसे में जरूरत है कि कम से कम 3%-4% कोविड के मामलों की जिनोमिक्स सिक्वेंसिंग की जाए, ताकि पता चल सके कि कोविड के कौन से वेरिएंट सामने आ रहे हैं। कोरोना वायरस का थर्ड वेव चकमा देकर प्रवेश न कर जाए, इसके लिए काफी सतर्क रहना होगा। जैसा आंकड़े बताते हैं उसके अनुसार केवल .5% कोविड के मामलों की ही जिनोमिक्स सिक्वेंसिग हुई है। यह प्रतिशत आवश्यकता के मुकाबले काफी कम है।
डबल डोज वैक्सीन ही डेल्टा प्लस से बचाव का उपाय
डॉ. कुणाल सरकार बताते हैं कि कोरोना के डेल्टा प्लस वैरिएंट को लेकर और अधिक सक्रिय रहना होगा। इससे बचाव के लिए वैक्सीन की डबल डोज लेना उपाय है। पश्चिम बंगाल के कल्याणी में नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ बायोमेडिकल जीनोमिक्स है। ऐसे में यहां कुछ सैंपल भेजे जाने की आवश्यकता है। इन सैंपलों का जीनोम सिक्वेसिंग करके ही सटीक स्थिति का पता किया जा सकता है, कि कहीं अन्य वेरिएंट तो सामने नहीं आ रहे।
दरअसल कोरोना वायरस का डेल्टा प्लस वैरिएंट रिसेप्टर्स की मदद से अच्छी बांडिंग बनाकर फेफड़े की कोशिकाओं को क्षतिग्रस्त करता है। कोरोना के इलाज वाली दवा डेल्टा प्लस वैरिएंट पर बेअसर हो रही है। अब तक के उपलब्ध आंकड़ों के मुताबिक वायरस का नया रूप कोरोना की वैक्सीन से बनी एंटीबाडी को भी चकमा दे रहा है। वैसे सेरो सर्वे के अनुसार कोविड के सेकेंड वेव में 67%-70% लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हो चुके हैं। इसके बावजूद हमें कोविड प्रोटोकॉल का पालन करना होगा, ताकि थर्ड वेव यदि आए भी तो उसका असर कम किया जा सके।
जिला स्तर पर निगरानी बढ़ाने की जरूरत
डॉ. सरकार ने कहा कि जिन जिलों में कोविड के मामले अधिक दर्ज हो रहे हैं, उन जगहों पर पहले से ही नजरदारी बढ़ाने की आवश्यकता है। ध्यान रखना होगा कि जो भूल पहले हुई है, वह अब न हो। विशेषकर राज्य में कोलकाता, उत्तर 24 परगना, हावड़ा, दक्षिण 24 परगना व अब दार्जि‌लिंग व जलपाईगुड़ी में भी एक दिन में नए मामले बढ़े हैं। ऐसे में इन जगहों पर निगरानी बरतकर ठोस उपाय करने की आवश्यकता है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

माकपा उम्मीदवार को प्रचार से रोका, पुलिस के साथ हुई झड़प

कोलकाता : बंगाल की भवानीपुर विधानसभा सीट पर होने वाले उपचुनाव में माकपा के उम्मीदवार श्रीजीब बिस्वास को मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के आवास की ओर आगे पढ़ें »

ऊपर