…तो खुद को नंबर टू कहते रहते थे पार्थ

बैशाखी का विस्फोटक खुलासा, कहा – पार्थ के अहंकार ने डुबाया
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : एसएससी घोटाला मामले में ईडी के हाथों गिरफ्तार मंत्री पार्थ चटर्जी को लेकर बैशाखी बंद्योपाध्याय ने विस्फोटक खुलासा किया है। वैशाखी ने दावा किया है कि पार्थ चटर्जी कहते थे कि शिक्षा विभाग नाकतला से चलेगा हरीश चटर्जी स्ट्रीट से नहीं। उनमें इतना अहंकार आ गया था कि वे कहते थे आई एम नम्बर टू। पार्टी में ममता बनर्जी के बाद खुद का स्थान बताते थे और नम्बर टू कहते थे। उनका अहंकार ही ले डूबा है। इतने पर ही वह नहीं थमीं। उनका आरोप है कि पार्थ चटर्जी कॉरपोरेट जगत से राजनीति में आये थे और उन्होंने शिक्षा विभाग में घोटाले को ही उद्योग बना दिया था। बैशाखी ने कहा कि जो देख रही हूं वह काफी खराब लग रहा है, हालांकि जो पार्थ अभी हैं उनसे मैं अनजान हूं। बैशाखी ने कहा कि उनके आचरण से चकित थी। अब समझ में आ रहा है कि क्यों वे ऐसा कहते थे।
अर्पिता का नाम सुना था पार्थ को लेकर
बैशाखी ने कहा कि वह अर्पिता को तो नहीं जानती है लेकिन पार्थ चटर्जी के साथ उसका नाम सुना था। जो लोग मेरे और शोभन काे लेकर क्या क्या बोलते थे उनमें पार्थ दा भी शामिल हैं, लेकिन मेरे और शोभन के रिश्ते में पारदर्शिता थी। हमलोगों ने छुपकर कोई काम नहीं किया। किसी के व्यक्तिगत जीवन को लेकर नहीं बोल सकती हूं। उल्लेखनीय है कि पूर्व मेयर शोभन चटर्जी की महिला मित्र हैं बैशाखी बंद्योपाध्याय।
शोभन साजिश का शिकार हुए थे
बैशाखी ने कहा कि शोभन नारदा मामले में बिल्कुल निर्दोष हैं, वह साजिश के शिकार हुए थे। चुनाव से ठीक पहले वीडियो लीक हुआ था, मैंने लोगों को ऐसा कहते भी सुना। बैशाखी ने कहा कि एक आदमी की पैसे की लालसा और महिलाओं की तुलना किसी भी चीज से नहीं की जा सकती है। उन्होंने कहा कि उम्मीद है कि नये मंत्री ब्रात्य बसु सुधार करेंगे।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

अनुव्रत की गिरफ्तारी के बाद 7 दिनों की छुट्टी पर गये डॉक्टर चंद्रनाथ

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : अनुव्रत मण्डल की गिरफ्तारी के बाद उन्हें बेड रेस्ट की सलाह देने वाले डॉक्टर चंद्रनाथ अधिकारी छुट्टी पर चले गये हैं। उन्होंने आगे पढ़ें »

ऊपर