तो अब लोगों को लगेंगे बूस्टर डोज!

वैक्सीन के दो डोज के बाद भी काफी लोग हो रहे संक्रमित
डॉक्टर संगठनों ने प्राथमिकता देने की मांग की
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता: कोरोना वायरस महामारी के बीच वैक्सीनेशन लोगों के लिए वरदान बन कर आया है। हालांकि देखा जा रहा है कि पहले और दूसरे डोज के बाद भी काफी लोग कोविड से संक्रमित हो रहे हैं। ऐसे में अब बूस्टर डोज को लेकर के काफी चर्चा है। ऐसे में संभावना है कि आगामी दिनों में लोगों को बूस्टर डोज लगेगा। बूस्टर डोज की चर्चा के बीच एसोसिएशन ऑफ हेल्थ सर्विस डॉक्टर के महासचिव डॉक्टर मानस गुमटा व वेस्ट बेंगल डॉक्टर्स फोरम के डॉक्टर राजीव पांडेय ने डॉक्टरों व स्वास्थ्य कर्मियों को बूस्टर डोज में प्राथमिकता देने की अपील की है, इसलिए मुख्यमंत्री को पत्र भी लिखा गया है।
पश्चिम बंगाल डॉक्टर्स फोरम के डॉ. राजीव पाण्डेय ने कहा कि महामारी से निपटने के लिए डॉक्टर, नर्स और हमारे अन्य फ्रंटलाइन सहयोगी इस देश और राज्य को अब तक की सबसे बड़ी स्वास्थ्य सेवा चुनौती के माध्यम से देखने के लिए ऊपर और परे जा रहे हैं। लेकिन जैसे ही दूसरी लहर ने हमें कड़ी टक्कर दी, डॉक्टर्स और नर्सों सहित सभी फ्रंटलाइन स्वास्थ्यकर्मियों ने इस युद्ध के मैदान में मोर्चे से लड़ाई लड़ी और उनमें से कई ने अपने जीवन का बलिदान भी दिया, हालांकि उनके परिवार इन अपरिहार्य नुकसान के कारण पूरी तरह से निराश हैं। हम नहीं जानते जब तक आपके स्वास्थ्य मंत्रालय की देखरेख में सभी राज्य स्वास्थ्य प्रशासन द्वारा एक प्रभावी रोकथाम और टीकाकरण कार्यक्रम को सक्रिय रूप से लागू नहीं किया जाता है, तब तक कितने योद्धा अपनी जान दे देंगे। साथ ही चिकित्सा बिरादरी के लोगों के परिवार के सदस्यों को बिना किसी देरी के शीघ्र मुआवजा देना समय की मांग है।
वर्तमान में, हमारे देश में सक्रिय कोविड मामलों की संख्या कम है और चिकित्सा बिरादरी की ओर से, हम आपको इस कोविड -19 टीकाकरण कार्यक्रम को चलाने के लिए धन्यवाद देना चाहते हैं जिसने इसे संभव बनाया।
लेकिन हम सभी जानते हैं कि टीके की प्रभावशीलता समय के साथ आगे नहीं बढ़ती है और इसके कारण कई स्वास्थ्य देखभाल कर्मचारी अपनी ड्यूटी लाइन में इस बीमारी का अनुबंध कर सकते हैं। हम पहले से ही विभिन्न अध्ययनों से जानते हैं कि बूस्टर खुराक का प्रशासन टीके की प्रभावकारिता को बनाए रखते हुए कोविड संक्रमण से बचाव के लिए प्रभावी उपाय होगा।
इस परिस्थिति में, चिकित्सा बिरादरी की ओर से, हम आपसे और आपके अच्छे कार्यालय से अपील करते हैं कि सभी स्वास्थ्य देखभाल कर्मियों और अग्रिम पंक्ति के योद्धाओं को जल्द से जल्द कोविड -19 के लिए बूस्टर खुराक टीकाकरण कार्यक्रम शुरू करने के लिए एक प्रारंभिक सलाह जारी करें। डॉ. पुण्यब्रत गुन ने कहा कि देखा जा रहा है कि काफी लोग सेकंड डोज के बाद भी कोविड से संक्रमित हो रहे हैं। ऐसे में आने वाले दिनों में बूस्टर डोज की जरूरत पड़ेगी। हमारी अपील है कि चिकित्सा बिरादरी को इसके लिए प्राथमिकता दी जाए।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

नये कोरोना वैरियंट आने के बाद आज राज्य में…

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाताः राज्य में शनिवार को कोविड के 701 नए मामले सामने आए। इसके अलावा 11 की मौत हो गई। कुल कोविड के मामले राज्य आगे पढ़ें »

ऊपर