शुभेन्दु के पूर्व गार्ड ने की आत्महत्या या हुई हत्या !

2018 में गोली मारकर की थी आत्महत्या
अब पत्नी ने थाने में की लिखित शिकायत
सन्मार्ग संवाददाता
खड़गपुर/कांथी : शुभेन्दु अधिकारी के पूर्व गार्ड शुभव्रत चक्रवर्ती की आत्महत्या का मामला करीब ढाई साल के बाद सुर्खियों में आ गया है। शुभव्रत की पत्नी सुपर्णा चक्रवर्ती ने आरोप लगाया है कि उसके पति की हत्या की गयी है। इस मामले में उसने सीधे-सीधे शुभेन्दु अधिकारी पर आरोप लगाया है। इस बाबत सुपर्णा ने कांथी थाने में लिखित शिकायत दर्ज करायी है। मालूम हो कि 2018 में शुभव्रत की गोली लगने के कारण मौत हो गयी थी। उस वक्त बताया गया था कि उसने खुद को गोली मारकर आत्महत्या की। सुपर्णा ने आरोप लगाया कि 13 अक्टूबर 2018 को सुबह सवा दस बजे शुभव्रत ने फोन कर बताया था कि वह घर आ रहा है। उसके एक घंटे बाद ही उसकी जेठानी का फोन आया और उसने तुरंत उसे घर बुलाया जिसके बाद पता चला कि उसका पति गोली लगने के कारण अस्पताल में भर्ती है। अस्पताल पहुंचने पर मालूम हुआ कि गंभीर हालत को देखते हुए उसे कोलकाता रेफर किया गया है जिसके लिए शुभेन्दु अधिकारी के निर्देश पर एम्बुलेंस की व्यवस्था की गयी थी। सुपर्णा का आरोप है कि एम्बुलेंस आने में काफी देरी हुई थी। आरोप है कि उस वक्त शुभेन्दु राज्य के परिवहन मंत्री थे जिसके कारण वह कुछ बोल नहीं पा रही थी जबकि शंका तभी थी कि कुछ गलत हुआ है। अब समय आया है कि पुलिस मामले की तफ्तीश करे। सुपर्णा ने कांथी थाने में कथित रूप से शुभेंदु अधिकारी समेत दो लोगों के खिलाफ शिकायत दर्ज करायी है। उसका आरोप है कि उसके पति शुभव्रत करीब 7 वर्षों तक शुभेंदु अधिकारी के अंगरक्षक रहे। कांथी में उसका जीवन काफी अच्छा कट रहा था। सूत्रों के अनुसार शिकायत में शुभेंदु के अलावा राखाल बेरा का नाम भी शामिल है जो इस समय नौकरी देने के नाम पर आर्थिक रूप से लोगों को प्रताड़ित करने के आरोप में सलाखों के पीछे बंद है। कांथी थाने में शिकायत दर्ज होने के बाद शुक्रवार की दोपहर शुभेंदु के भाई दिव्येंदु अधिकारी पहुंचे थे। कांथी सांगठनिक जिला सभापति अनूप चक्रवर्ती ने कहा कि शुभेंदु अधिकारी जब से भाजपा में आये हैं तब से उन्हे बदनाम करने का प्रयास किया जा रहा है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्सहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

हावड़ा में अवैध पार्किंग के खिलाफ सख्त होगा प्रशासन

हावड़ा डीएम कार्यालय, अस्पताल, अदालत व निगम के बाहर वाहनों की कतारें प्रशासन, निगम व पुलिस ने की बैठक, उठाये जायेंगे कड़े कदम सन्मार्ग संवाददाता हावड़ा : अवैध आगे पढ़ें »

ऊपर