शुभेंदु की दुर्गा पूजा : हाई कोर्ट ने नियुक्त किया स्पेशल अफसर

मुआयने के बाद देंगे रिपोर्ट, सुनवायी आज दो बजे
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : कांथी के चौरंगी रिक्रियेशन क्लब की दुर्गा पुजा का मामला अब हाई कोर्ट के सिंगल बेंच से डिविजन बेंच में पहुंच गया है। इस विवाद के केंद्र विंदु में भाजपा नेता व विधानसभा में विपक्ष के नेता शुभेंदु अधिकारी हैं जो इस क्लब के अध्यक्ष भी हैं। हाई कोर्ट के जस्टिस सुब्रत तालुकदार और जस्टिस केशांग दोम भूटिया का डिविजन बेंच वृहस्पतिवार को इस मामले की सुनवायी करेगा।
यहां गौरतलब है कि इस मामले में जस्टिस राजाशेखरमंथा के आदेश के खिलाफ डिविजन बेंच में अपील की गई है। जस्टिस तालुकदार के डिविजन बेंच ने एक स्पेशल अफसर नियुक्त किया है। स्पेशल अफसर मौका मुआयना करेंगे। वहां कबसे पूजा हो रही है इसकी जानकारी हासिल करेंगे। फिर वे अपनी रिपोर्ट वृहस्पतिवार को डिविजन बेंच में पेश करेंगे। दोपहर दो बजे डिविजन बेंच इसकी सुनवायी करेगा। रिक्रियेशन क्लब की तरफ से कांथी के सिंचाई विभाग के अधिशासी अभियंता के पास पूजा की अनुमति देने के लिए 16 अप्रैल को आवेदन किया गया था। उन्होंने 19 अप्रैल को इसकी अनुमति दे दी, लेकिन 21 अप्रैल को इसे वापस ले लिया। इसके खिलाफ तुषार कांति दास ने हाई कोर्ट में रिट दायर कर दी। जस्टिस राजाशेखर मंथा ने इसकी सुनवायी के बाद अपने आदेश में कहा था कि लिखित रूप में कोई कारण बताये बगैर मौखिक रूप से अनुमति वापस ले ली गई थी। जस्टिस मंथा ने आदेश दिया कि अधिशासी अभियंता तीन दिनों के अंदर लिखित रूप से कारण बताये कि अनुमति क्यों वापस ले ली गई थी। इस आदेश के खिलाफ जस्टिस तालुकदार के डिविजन बेंच में अपील कर दी गई। दूसरी तरफ क्लब की तरफ से कहा गया है कि राजनीतिक कारणों से यह अनुमति वापस ले ली गई है। पिटिशनर तुषार कांति दास ने बताया कि क्लब करीब बीस साल से दुर्गा पूजा का आयोजन कर रहा है और इस स्थान पर 2007 से दुर्गा पूजा की जा रही है। बहरहाल अब जस्टिस तालुकदार का डिविजन बेंच वृहस्पतिवार को इस मामले में अपना निर्णायक फैसला सुनाएगा।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

सिंदूर खेला के बाद नम आंखों से विदा किया गया मां दुर्गा को

एकादशी के दिन भी कई पूजा पण्डालों के पास उमड़ी भीड़ कोलकाता : ‘बोलाे दुर्गा माई की...जय, आसछे बोछोर आबार होबे’ के नारों से विभिन्न विसर्जन आगे पढ़ें »

ऊपर