सव्यसाची के विधानसभा में तृणमूल में शामिल होने पर मुखर हुए शुभेंदु

कहा, इसका अंत देखकर छाेडूंगा
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : विधानसभा में सव्यसाची दत्ता के तृणमूल में शामिल होने के मुद्दे पर विपक्ष के नेता शुभेंदु अधिकारी मुखर हुए हैं। विधानसभा के अंदर सव्यसाची के तृणमूल में शामिल होने को शुभेंदु अधिकारी ने ‘विरल एवं अभूतपूर्व’ घटना बताया। शुक्रवार को भाजपा विधायकों को लेकर संविधान की कॉपी हाथ में लेकर विधानसभा के अंदर इस घटना का विरोध शुभेंदु अधिकारी ने जताया। उन्होंने चेताया कि इस तरह के कार्य के लिए वह कोर्ट में जनहित याचिका भी दायर कर सकते हैं। पूजा की छुट्टी के बाद ही इसे लेकर वह राज्यपाल जगदीप धनखड़ के पास भी जाएंगे। यहां उल्लेखनीय है कि गत गुरुवार को भाजपा से दो वर्षों का संपर्क तोड़ते हुए सव्यसाची दत्ता ने विधानसभा में जाकर तृणमूल में घर वापसी की। इस पर शुभेंदु अधिकारी ने ट्वीट कर उनके दलबदल को लेकर तीखी प्रतिक्रिया दी। उन्होंने कहा कि किस तरह विधानसभा के अंदर ऐसा किया गया। शुभेंदु ने सवाल किया, ‘क्यों विधानसभा को पार्टी कार्यालय में बदल दिया गया है ? संविधान के मूल अस्तित्व का नाश कर, समाधिस्थ कर दिया गया है।’ उन्होंने कहा, ‘आज इसका विरोध किया है, विधानसभा में कार्य दिवस शुरू होने पर स्पीकर के पास ज्ञापन देंगे क्योंकि वह विधानसभा भवन के अध्यापक हैं और राज्यपाल कस्टडियन हैं। हम स्पीकर और राज्यपाल के पास जाएंगे।’ जनहित मामला दायर करने की चेतावनी भी शुभेंदु ने दी और कहा ​कि इसका अंत देखकर रहेंगे।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

PhonePe पर अब ट्रांजैक्शन के लिए देनी पड़ेगी फीस!

नई दिल्लीः डिजिटल पेमेंट एप फोन पे अब प्रोसेसिंग फी के नाम पर हर ट्रांजैक्शन पर आपसे पैसे वसूलेगा। जी हां आपने सही पढ़ा और आगे पढ़ें »

ऊपर