बसों की कमी बरकरार, आज से और राहत की उम्मीद

बस किराया में वृद्धि की मांग पर 13 जुलाई को राज्यव्यापी हस्ताक्षर अभियान चलाएगा बस संगठन
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाताः सख्ती से कुछ राहत के बीच देखा जा रहा है कि बसें सड़कों पर उतर रही हैं। हालांकि अब भी बसों की कमी बरकरार है। ऐसे में कुछ राहत तो यात्रियों को मिली हैं, हालां‌कि पूरी बसें नहीं चलने से अक्सर यात्रा और कठिन हो जा रही है। बस संगठन किराये में वृद्धि की मांग पर लगातार बैठकें कर रहे हैं। अब ज्वाइंट काउंसिल ऑफ बस सिंडिकेट ने इस मुद्दे पर राज्यव्यापी हस्ताक्षर अभियान चलाने का निर्णय किया है। बस संगठन के महासचिव तपन बनर्जी ने कहा कि 13 जुलाई को हम बस किराये में वृद्धि को लेकर हस्ताक्षर अभियान चलाएंगे। इसके बाद इसे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, मुख्यमंत्री ममता बनर्जी, परिवहन मंत्री फिरहाद हकीम को भेजा जाएगा।
दूसरी तरफ रविवार को भी महानगर की सड़कों पर बसों की संख्या काफी कम ही नजर आई। माना जा रहा है कि शनिवार व रविवार को सरकारी अस्पतालों में छुट्टी का माहौल रहता है। ऐसे में इस कारण भी बसों की कमी नजर आ रही है।
5 से 10% बसें चल रही सड़कों पर
तपन बनर्जी ने कहा कि वर्तमान में महानगर की सड़कों पर केवल 5 से 10% बसें ही चल रही हैं। इसके अलावा जब दो से तीन दिन बसें चल रही हैं, तो घाटा देखकर कुछ बसों को बैठा भी दिया जा रहा है। किराये में वृद्धि से ही सभी बसों को चलाना संभव है।
मनमर्जी का किराया ले रहे कंडक्टर
निजी बसें आखिरकार कोलकाता की सड़कों पर लौट आई हैं। कोलकाता और उपनगरीय सड़कों पर निजी बसों की संख्या में इजाफा हुआ है। नतीजतन, व्यस्त समय के दौरान सार्वजनिक परिवहन खोजने के अपने दैनिक संघर्ष में लोगों को कुछ राहत मिली है। सोमवार से बसों के और बढ़ने की उम्मीद है। हालाँकि, जब यात्री इन निजी बसों में सवार हो रहे हैं, तो उन्हें बहुत धक्का लग रहा है। शिकायत है कि बस कंडक्टर मनमर्जी का किराया ले रहे हैं।
कई यात्रियों ने ऑल बंगाल बस और मिनीबस कोऑर्डिनेशन कमेटी से शिकायत की है कि टिकट लेने वाले उनसे सरकार द्वारा स्वीकृत दरों से अधिक किराया वसूल रहे हैं। समिति के महासचिव राहुल चट्टोपाध्याय ने कहा कि शिकायतकर्ताओं ने यह भी आरोप लगाया है कि बसों में सरकार द्वारा अनुमोदित दर सूची भी गायब है।
इस पर नजर
कुल बसें- 40-45000
चल रही बसें- 5%-10%

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्सहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

बड़ी खबरः राज्य में कोविड के बीच बच्चों में डेंगू के साथ स्क्रब टाइफस

एक्सपर्ट ने जागरूक रहने की दी सलाह सन्मार्ग संवाददाता कोलकाताः कोविड काल के बीच अचानक बच्चों में डेंगू के साथ स्क्रब टाइफस के मामले सामने आए हैं। आगे पढ़ें »

ऊपर