बीरभूम में दिल दहलाने वाली घटनाः 7 महीने से पति ने नहीं भेजा पैसा, पत्नी ने 3 बच्चों के साथ…

कोलकाताः पश्चिम बंगाल के बीरभूम जिले के किरनाहर में शनिवार सुबह एक दिल दहलाने वाली घटना घटी है। इससे पूरे इलाके में हड़कंप मच गया है। अरब में काम कर रहे पति ने करीब सात महीने से एक भी पैसा घर नहीं भेजे। इससे बंगाल के बीरभूम में रह रही पत्नी को घर चलाने में आर्थिक तंगी का सामना करना पड़ रहा था। उसने अपने तीन बच्चों को जहर दिया और जहर खाकर आत्महत्या करने की कोशिश की। दो बेटियों की पहले ही मौत हो चुकी है। मां-बेटे का इलाज गंभीर हालत में अस्पताल में किया जा रहा है। इस तरह की घटनाओं से बीरभूम के किरनाहर थाना क्षेत्र के गांव कलीनगर में हड़कंप मच गया है।

पुलिस सूत्रों के मुताबिक, कालीनगर में एक ही परिवार के 4 सदस्यों ने जहर खाकर आत्महत्या करने की कोशिश की। उनमें दो की मौत हो गई। मृतक की पहचान हासी खातुल के रूप में हुई है। वह केवल 13 वर्ष की है। परिवार की 10 वर्षीय नाबालिग सदस्य खुशी खातून की भी मौत हो गई। इसके अलावा मां सेरेना बीबी और बेटे इरफान शेख का बर्दवान मेडिकल कॉलेज अस्पताल में इलाज चल रहा है।
क्या है मामला?
सूत्रों के मुताबिक सेरेना बीबी के ससुर का घर मुर्शिदाबाद के सुंदरपुर में है। स्वामी हुसैन शेख करीब 5 साल से अरब में काम कर रहे हैं, लेकिन उसने करीब 7 महीने तक एक भी पैसा घर नहीं भेजा। फोन पर पति-पत्नी में झगड़ा होता रहता था। शुक्रवार शाम को भी कुछ ऐसा ही हुआ। उसके बाद सेरेना ने बच्चों को कीटनाशक खिलाकर जहर दे दिया। व स्थानीय लोगों ने उन्हें बचाकर अस्पताल पहुंचाया। वहां दो बेटियों की मौत हो गई। 30 साल की उम्र में मां और सबसे छोटा बेटा सेरेना बीबी और 8 साल का बेटा इरफान शेख गंभीर हालत म बर्दवान मेडिकल कॉलेज में भर्ती हैं।

 

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

आटा के बाद अब चावल भी महंगा…

नई दिल्ली : गेंहू के दामों में उछाल के बाद अब चावल  के दामों में तेजी देखी जा रही है, घरेलू और अंतरराष्ट्रीय बाजार में आगे पढ़ें »

ऊपर