13 वर्षों का रिकॉर्ड तोड़ा सितम्बर की बारिश ने

कोलकाता के लिए ‘येलो अलर्ट’
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : जिस तरह मानसून प्रणाली बंगाल की खाड़ी से पूर्वी और मध्य भारत की ओर बढ़ रही है, ऐसे में इस बार पश्चिम बंगाल में बारिश कई तरह के रिकॉर्ड तोड़ रही है। मौसम विभाग के अनुसार, पश्चिम बंगाल के दक्षिणी जिलों में गत 1 जून से अब तक 20% अतिरिक्त बारिश दर्ज की गयी। मानूसन में अब लगभग 10 दिनों का समय ही शेष रह गया है, इसके बावजूद क्षेत्र में मानसून लगातार सक्रिय है। मौसम विभाग का कहना है कि इस सप्ताह भी बारिश जारी रहने की संभावना है। पिछले 24 घण्टों से सोमवार की शाम तक अलीपुर स्थित कोलकाता के बेस स्टेशन में 159.5 मि.मी. बारिश दर्ज की गयी जो वर्ष 2008 के बाद सितम्बर महीने में अब तक सबसे अधिक है। मौसम विभाग के आंकड़ों के अनुसार, 6 सितम्बर 2016 को सितम्बर महीने में सबसे अधिक 132 मि.मी. बारिश दर्ज की गयी थी यानी 13 वर्षों का रिकॉर्ड सोमवार को सितम्बर महीने की बारिश ने तोड़ा। वहीं 25 व 28 सितम्बर को भी दो और निम्न दबाव बनने वाले हैं ​जिस कारण इस महीने के अंत तक भी बारिश की संभावना है। इस बीच, कोलकाता के लिए मौसम विभाग द्वारा ‘येलो अलर्ट’ जारी कया गया है। वहीं कोलकाता का तापमान 26 से 33 डिग्री सेल्सियस तक बनेरहने की संभावना है।
कई जिलों में हुई अतिरिक्त बारिश
मौसम विभाग के अनुसार, पश्चिम बंगाल के कई जिलों में इस बार अतिरिक्त बारिश हुई। पूर्व व पश्चिम मिदनापुर, बर्दवान, उत्तर 24 परगना और हावड़ा में गत 1 जून से 20 सितम्बर तक 30% अतिरिक्त बारिश हुई जबकि कोलकाता में 18% अतिरिक्त बारिश हुई। गांगेय पश्चिम बंगाल में 1,300 मि.मी. से अधिक बारिश दर्ज की गयी जबकि स्वाभाविक तौर पर इस दौरान 1080 मि.मी. बारिश होती है यानी इस बार 20% अतिरिक्त बारिश दर्ज की गयी।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

राज्‍य सरकार की बड़ी घोषणा : बनेंगे फिर कंटेनमेंट जोन

कोलकाता : त्योहारों के मौसम के बीच राज्य में कोरोना ने एक बार फिर दस्तक दी है। दुर्गापूजा के बाद से ही राज्य में कोरोना आगे पढ़ें »

ऊपर