सोदपुर में मां-बेटे का शव बरामद होने से सनसनी

मौत के कारणों की गुत्थी सुलझाने में जुटी पुलिस
खड़दह : शुक्रवार की रात खड़दह थाने की पुलिस ने सोदपुर केयर मोड़ स्थित एक अपार्टमेंट के ग्राउंड फ्लोर के फ्लैट से मां कामना ​सिंह (67) और बेटे दत्तात्रेय सिंह (22) का शव बरामद किया। इसके बाद इलाके में हड़कंप मच गया। शुक्रवार की रात बेटे को खोजते हुए एक पड़ोसी जब उनके घर गया तो उसने देखा कि कामना फर्श पर मृत पड़ी है, वहीं दत्तात्रेय पंखे से झूल रहा है। उसने शोर मचाया तो आसपास के लोग वहां इकट्ठा हो गए और जानकारी पुलिस को दी। बाद में शव को पुलिस ने बरामद कर लिया। यह मामला हत्या कर आत्महत्या का है या फिर दोनों की किसी कारण से हत्या की गई है, पुलिस इसका पता लगाने में जुट गई है। घटना की छानबीन में जुटी खड़दह थाने की पुलिस का कहना है कि प्राथमिक तौर पर यह सामने आ रहा है​ कि दोनों मां-बेटे ने आत्महत्या की है मगर मौत के कारणों की सही जानकारी के लिए पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार है। पुलिस ने मृतक युवक के मोबाइल नंबर के ​जरिये एक नंबर पर फोन किया तो पता चला कि कामना के मायकेवाले बिहार में हैं जिन्हें उनकी मौत की जानकारी दी गयी है। वहीं खबर पाकर सुरेश के कुछ रिश्तेदार वहां पहुंचे। बताया गया है कि 14 साल पहले ही कामना के प्रति सुरेश सिंह की मौत हो गयी थी। बेटे को लेकर कामना अरुणाचल प्रदेश में रहती थी और वहीं एक स्कूल में शिक्षिका थी। सुरेश का सोदपुर पुराने पोस्ट ऑफिस के निकट एक फ्लैट था जिसमें सुरेश की मौत के कुछ साल बाद ही आकर मां-बेटे रहने लगे। वहां से फिर उन्होंने केयर मोड़ के उक्त अपार्टमेंट में फ्लैट लिया। दत्तात्रेय भी कंम्यूटर इंजीनियरिंग पास कर नौकरी के लिए प्रयास कर रहा था। शनिवार को पुलिस ने इस मामले में आसपास के कुछ लोगों से पूछताछ की है हालांकि उनका कहना है कि उस परिवार में कुछ भी अस्वाभाविक नहीं लग रहा था। फिलहाल खड़दह थाने की पुलिस इस दोहरी मौत के पीछे के कारणों का पता लगाने की कोशिश कर रही है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

मांग पर अड़े मेडिकल कॉलेज व अस्पताल के छात्र

कोलकाता : आरजी कर मेडिकल के प्रिंसिपल के इस्तीफे की मांग पर अड़े मेडिकल स्टूडेंट्स ने निकाली रैली। इस मामले पर स्वास्थ्य भवन के अधिकारियों आगे पढ़ें »

ऊपर