पार्टी की राजनीतिक स्‍थितियों पर भाजपा के वरिष्‍ठ नेताओं ने की बैठक

सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : राज्‍य में पार्टी की मौजूदा राजनीतिक स्‍थितियों को लेकर सोमवार को भाजपा के वरिष्‍ठ नेताओं ने मुरलीधर सेन लेन स्‍थित पार्टी मुख्‍यालय में बैठक की। इस बैठक में प्रदेश भाजपा अध्‍यक्ष सुकांत मजूमदार, विपक्ष के नेता शुभेंदु अधिकारी व अन्य भाजपा नेता मौजूद थे। पार्टी सूत्रों के अनुसार, इस बैठक में कई मुद्दों को लेकर चर्चा की गयी। हालांकि जिस प्रकार पिछले कुछ दिनों से पार्टी को अपने ही विधायकों व नेताओं से असंतोष का सामना करना पड़ रहा है, एक के बाद एक नेता इस्‍तीफा दे रहे हैं, इन सभी विषयों को लेकर भी चर्चा की गयी। किस प्रकार पार्टी में असंतोष रोकना है, निष्‍क्रिय कार्यकर्ताओं को दोबारा कैसे सक्रिय किया जाए व पार्टी को किस प्रकार एकजुट करना है, इसे लेकर भी चर्चा हुई।
युवा मोर्चा की ओर से होगा आंदोलन
यहां उल्लेखनीय है कि युवा मोर्चा की भी एक बैठक हुई जिसमें आंदोलन संबंधी मुद्दों पर चर्चा की गयी। प्रदेश भाजपा युवा मोर्चा के अध्‍यक्ष डॉ. इंद्रनील खां ने बताया कि युवा मोर्चा द्वारा जल्‍द ही कुछ आंदोलन होंगे जिस संबंध में चर्चा की गयी। सूत्रों का कहना है कि इस महीने के अंत तक पार्टी कानून उल्लंघन कर सकती है। नवान्‍न अभियान की बात भी बैठक में कही गयी। जल्‍द सभी आंदोलनो के तारीखों की घोषणा की जाएगी।
शुभेंदु व सुकांत जाएंगे देवचा पाचामी
पार्टी सूत्रों ने बताया कि तय किया गया है कि आगामी 20 तारीख को सुकांत मजूमदार व शुभेंदु अधिकारी देवचा पाचामी जाएंगे जहां राज्‍य सरकार द्वारा कोयला ब्‍लॉक तैयार किया जा रहा है। पहले जमीन को लेकर यहां कुछ विवाद हुआ था, काफी किसान जमीन देने को तैयार नहीं थे, लेकिन अब काफी हद तक मामला सुलझा है। हालांकि भाजपा जमीन अधिग्रहण के मुद्दे को लेकर यहां सरकार के खिलाफ आंदोलन के मूड में है। यहां के लोगों से बात कर उनकी समस्‍याओं को जानने की कोशिश भाजपा नेेता करेंगे।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

शनिवार को ये 5 चीजें खरीदने से बचना चाहिए, जानिए क्या है इसका कारण

कोलकाताः शनिवार भगवान शनि का दिन है। इस दिन शनिदेव की पूजा से शुभ फल प्राप्त होते हैं और बुरे दिन खत्म होते हैं। शनिवार आगे पढ़ें »

ऊपर