सियालदह फ्लाईओवर बंद होने से ट्रैफिक डायवर्सन

बहूबाजार व सियालदह इलाके में ट्रैफिक जाम की स्थिति लगी
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : ईस्ट वेस्ट मेट्रो के टनेलिंग निर्माण कार्य के लिए सियालदह फ्लाईओवर पर वाहनों के यातायात को शुक्रवार की रात से बंद कर दिया गया है। शुक्रवार की रात 12 बजे से मंगलवार की सुबह 6 बजे तक फ्लाईओवर पर वाहनों के चलने पर रोक लगायी गयी है। फ्लाईओवर बंद होने के कारण कोलकाता ट्रैफिक पुलिस की ओर से महात्मा गांधी रोड , सेंट्रल एवेन्यू, एजेसी बोस रोड, बी.बी गांगुली स्ट्रीट, एपीसी रोड सहित अन्य इलाकों बैनर लगाकर लोगों को रूट डायवर्सन के बारे में जागरुक किया।
सूत्रों के अनुसार इस दौरान ईस्ट वेस्ट मेट्रो द्वारा सियालदह स्टेशन से दूसरे टनेल बनाने का कार्य चालू हो गया है। ऐसे में टनेल जब सियालदह फ्लाईओवर से नीचे गुजरेगी तो कंपन के कारण किसी प्रकार का हादसा न हो इसलिए मेट्रो रेलवे ने कोलकाता पुलिस से फ्लाईओवर को बंद करने की अपील की थी। मेट्रो रेल की अपील को देखते हुए कोलकाता ट्रैफिक पुलिस ने सियालदह फ्लाईओवर पर वाहनों के यातायत पर 5 दिनों के लिए रोक लगायी है। इससे पहले अक्टूबर महीने में भी टनेलिंग के कार्य के लिए फ्लाईओवर को बंद किया गया था। मंगलवार को ट्रैफिक पुलिस ने सियालदह फ्लाईओवर के बंद होने पर ट्रैफिक डायवर्सन का रूट जारी किया है। उन पांच दिनों के दौरान सियालदह फ्लाईओवर का महात्मा गांधी रोड से बेलियाघाटा रोड की तरफ जाने वाला हिस्सा बंद रहेगा। हालांकि अगर कोई वाहन महात्मा गांधी रोड से राजाबाजार और राजाबाजार से महात्मा गांधी रोड की तरफ फ्लाईओवर से जाता है तो वह जा सकेगा। इसके अलावा एनआरएस से बेलियाघाटा और बेलियाघाटा से एनआरएस की तरफ जाने वाले वाहन भी यातायात कर सकेंगे। हालांकि सियालदह फ्लाईओवर के जरिए एनआरएस से राजाबाजार और राजाबाजार से एनआरएस की तरफ आने वाले वाहनों के यातायात पर रोक लगायी गयी है। उन्होंने बताया कि 15 अगस्त की शाम 4 बजे से 19 अगस्त की शाम 6 बजे तक एपीसी रोड, एमजी रोड, कॉलेज स्ट्रीट, विधान सरणी, एनसी स्ट्रीट, लेनिन सरणी और रफी अहमद किदवई रोड पर ट्राम के परिचालन पर रोक लगायी गयी है। दक्षिण कोलकाता से एजेसी बोस रोड के जरिए सियालदह स्टेशन आने वाले वाहन अपने नॉर्मल रूट का व्यवहार करेंगे। ऐसे में वाहन एजेसी बोस रोड, सियालदह फ्लाईओवर का दक्षिण छोर और बेलियाघाटा रोड के रास्ते सियालदह स्टेशन जाएंगे। उत्तर कोलकाता से सियालदह स्टेशन आने वाले वाहनों को सियालदह फ्लाईओवर पर एपीसी रोड व एमजी रोड क्रॉसिंग से डायवर्ट किया जाएगा। ये वाहन फ्लाईओवर से एमजी रोड, अम्हर्स्ट स्ट्रीट, बैंक ऑफ इंडिया, बी.बी गांगुली स्ट्रीट, कोले मार्केट, सियालदह फ्लाईओवर के नीचे से होते हुए सियालदह स्टेशन पहुंचेंगे। इसके अलावा वाहन राजाबाजार क्रॉसिंग से नारकेलडांगा मेन रोड, कैनल ईस्ट रोड, बेलियाघाटा रोड होकर सियालदह स्टेशन पहुंचेंगे। राजाबाजार टर्मिनस जाने वाली बसों को एनआरएस अस्पताल के पास रोक दिया जाएगा। वहीं महात्मा गांधी रोड के रास्ते ईस्ट की तरफ जाने वाले वाहन जिनका टर्मिनस बेलियाघाटा रोड पर है, उन्हें राजाबाजार ट्राम डिपो के पास ही रोक दिया जाएगा। महात्मा गांधी रोड होते हुए बेलियाघाटा रोड के रास्ते बेल‌ियाघाटा और सॉल्टलेक की तरफ जाने वाले वाहनों को एपीसी रोड, नारेकलांडा मेन रोड के रास्ते गंतव्य के लिए भेजा जाएगा। एपीसी रोड के रास्ते दक्षिण कोलकाता की तरफ जाने वाले वाहनों को मानिकतल्ला क्रॉसिंग से विवेकानंद रोड, अम्हर्स्ट स्ट्रीट, बी.बी गांगुली स्ट्रीट , एनसी स्ट्रीट, लेनिन सरणी अथवा सियालदह फ्लाईओवर पर एपीसी रोड व एमजी रोड क्रॉसिंग और एमजी रोड होते हुए आगे के लिए रवाना किया जाएगा। एजेसी बोस रोड के रास्ते बागुईआटी अथवा सिंथी की तरफ जाने वाले वाहन मौलाली क्रॉसिंग से एसएन बनर्जी रोड, डोरिना क्रॉसिंग, चित्तरंजन एवेन्यू, कोल्हूटोला रोड या विवेकानंद रोड के रास्ते आगे जा सकेंगे। एपीसी रोड के रास्ते दक्षिण कोलकाता की तरफ जाने वाले ट्रक व ट्रेलर को श्यामबाजार फाइव प्वाइंट क्रॉसिंग से भूपेन बोस एवेन्यू व सी.आर एवेन्यू के रास्ते आगे के लिए भेजा जाएगा। एजेसी बोस रोड के रास्ते उत्तर कोलकाता की तरफ जाने वाले ट्रकों को मौलाली क्रॉसिंग से एसएन बनर्जी रोड, डोरिना क्रॉसिंग, सी आर एवेन्यू अथवा एक्साई क्रॉसिंग से जे.एल नेहरू रोड और चित्तरंजन एवेन्यू के रास्ते आगे के लिए भेजा जाएगा।

शेयर करें

मुख्य समाचार

बड़ा मंगलवार कल, जानें हनुमान जी की पूजा का शुभ मुहूर्त, महत्व

कोलकाता : बड़ा मंगलवार कल है। बड़ा मंगलवार के मौके पर भक्त बजरंगबली की पूजा-अर्चना करेंगे। इसे बुढ़वा मंगल भी कहा जाता है। कल मंगलवार आगे पढ़ें »

चैत्र नवरात्रिः ऐसे करें देवी शैलपुत्री को प्रसन्न

कोलकाताः चैत्र नवरात्रि आज से शुरू हो गई है और इसकी समाप्ती 21 अप्रैल को होगी। इस दौरान मां दुर्गा के नौ स्वरूपों की पूजा आगे पढ़ें »

ऊपर