धान के खेत में दिखा रॉयल बंगाल टाइगर, लोग दहशत में

दक्षिण 24 परगना : धान खेत में बाघ दिखाई पड़ने पर लोगों में दहशत है । इलाके के लोग इतने आतंकित है कि उनकी नींद गायब हो गई हैं। यह घटना मयपीठ कोस्टल थानांतर्गत भुवनेश्वरी गांव के लस्कर घेरी इलाके की है। इस घटना से आस पास के गांव में काफी भय का माहौल है। लोग घरों से ‌नहीं निकल रहे हैं और घरों में भी दरवाजे और खिड़क‌ियां बंद कर रहने को मजबूर हैं। वहीं कुछ लोग लाठी और धारदार हथियार के साथ अपने परिजनों की सुरक्षा के लिए घर के समीप सामूहिक रूप से पहरेदारी कर रहे हैं। जानकारी के अनुसार, मंगलवार की सुबह नदी तट और धान के खेत में बाघ के पांव के चिन्हाें पर लोगों की नजर पड़ी। यह खबर आग की तरह इलाके में फैल गई कि बाघ धान के खेत में छुपा हुआ है। लोगों ने घटना की सूचना मयपीठ कोस्टल थाने की पुलिस और वन विभाग को दी। वन विभाग के रायदीघी रेंज के वनकर्मी नदी पथ पर जाल और नींद वाली बंदूक लेकर पूरी तरह तत्पर हैं। वन विभाग ने धान के खेत को पूरी तरह से फेंसिंग कर घेर लिया है। मयपीठ कोस्टल थाना प्रभारी मधुसूदन पाल ने कहा कि इलाके में वन विभाग की ओर से लाइटिंग की व्यवस्था और खांचा बनाया गया है । इससे पहले भी कई गांवों में बाघ आने की घटना घट चुकी है। कुलतली ब्लाॅक के मयपीठ कोस्टल इलाके में कई दिनों पहले नदी तट गांव देवीपुर और भुवनेश्वरी गांव में बाघ दिखाई दिया था। गौरतलब है कि बाघ स्वयं ही नदी पार होकर जंगल में चले जाते है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

अधिकारी परिवार के घर के ऊपर ड्रोन उड़ाये जाने से भड़के सांसद

खड़गपुर : पूर्व मिदनापुर जिले के कांथी के अधिकारी परिवार के आवास का नाम शांतिकुंज है। शुक्रवार को इस शांतिकुंज के ऊपर से ड्रोन उड़ाए आगे पढ़ें »

ऊपर