एटीएम स्कीमिंग मामले में दिल्ली से रोमानियाई गिरफ्तार

सन्मार्ग संवाददाता,कोलकाता : कोलकाता पुलिस को एक जबरदस्त कामयाबी मिली है। कोलकाता समेत आस पास के इलाकों और जिलों में भय का माहौल बना चुकी  एटीएम स्कीमिंग फ्रॉड मामले में कोलकाता पुलिस ने नई दिल्ली से एक रोमानियाई नागरिक को गिरफ्तार किया है। अभियुक्त का नाम सिलीव्यू फ्लोरीन स्पीरिडोन (28) है। वह रोमानिया के कांस्टेंटा का रहनेवाला है। कोलकाता पुलिस के एंटी बैंक फ्रॉड सेक्शन के अधिकारियों ने उसे दिल्ली के ग्रेटर कैलाश इलाके से पकड़ा है। अभियुक्त के पास से भारी मात्रा में स्कीमिंग डिवाइस, पिन होल कैमरा, नकद रुपये व अन्य सामान बरामद किये गये हैं। पुलिस को उसके पास से एक अंतरराष्ट्रीय एयरलाइन के क्रू मेंबर का आई कार्ड मिला है।
क्या है पूरा मामला
कोलकाता पुलिस की डीडी की टीम दिल्ली के सफदरजंग इलाके के एक एटीएम के बाहर नजरदारी चला रही थी। यह उन एटीएम केन्द्रों में शामिल हैं जहां से महानगर के लोगों के अकाउंट से रुपये निकाले गए थे। सोमवार की सुबह 8 बजे जब पुलिस कर्मी एटीएम के बाहर खड़े थे तभी उन्होंने टोपी पहने हुए एक विदेशी को एटीएम के अंदर जाते हुए देखा। उसके एटीएम से बाहर आने पर जब पुलिस कर्मी उसकी तरफ बढ़े तो अभियुक्त दौड़ने लगा। उसने काफी दूर तक दौड़ने के बाद ऑटो पकड़ा। उसका पीछा करने के लिए पुलिस कर्मियों ने भी ऑटो के जरिए उसका पीछा किया। करीब 7 किलोमीटर तक पीछा करने के बाद ट्रैफिक के कारण अभियुक्त का ऑटो आगे निकल गया। इस बीच पुलिस की टीम ग्रेटर कैलाश इलाके में पहुंची। पुलिस की टीम ने घर-घर जाकर पता लगाना शुरू किया कि वहां पर कोई विदेशी नागरिक रहता है या नहीं। करीब 4 घंटे की मेहनत के बाद एक व्यक्ति ने बताया कि उसके पड़ोस में तीन रोमानियाई नागरिक रहते हैं। ऐसे में पुलिस ने रोमानियाई नागरिक को पकड़ा और घर को खंगाला तो उसके पास से स्कीमिंग डिवाइस व अन्य सामान मिले। इसके बाद पुलिस ने उसे अपने गिरफ्त में ले लिया।

गिरोह को टेक्निकल असिस्टेंस देता है फ्लोरीन
पुलिस के अनुसार फ्लोरीन स्कीमिंग डिवाइस बनाने में एक्सपर्ट है। वह एटीएम केन्द्र में स्कीमिंग डिवाइस लगाने के साथ ही पिन होल कैमरा से डाटा का डायरेक्टर फीड लेता था। साथ ही क्लोन एटीएम कार्ड भी वही बनाता था।

निवास स्‍थान से दूर वाले एटीएम का करते थे प्रयाेग
क्लोन कार्ड से रुपये की निकासी करने के लिए वह और उसके साथी अपने निवास स्थल से 5 से 15 किलोमीटर दूर के एटीएम में जाते थे। पुलिस के अनुसार फ्लोरीन इस साल तीन बार भारत आया है। पहली बार वह 20 मार्च को, दूसरी बार 19 जुलाई और तीसरी बार 14 अक्टूबर को भारत आया था। तीनों बार वह टुरिस्ट विजा पर भारत आया था। पुलिस के अनुसार मामले में फ्लोरीन के दो साथी फरार हैं। पुलिस उनकी तलाश कर रही है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

टी20 विश्व कप 2021 के लिये श्रीलंका और यूएई होंगे भारत के बैकअप

नयी दिल्ली : भारत अगर अगले साल टी20 विश्व कप की मेजबानी नहीं कर पाता है तो अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद ने श्रीलंका और संयुक्त अरब आगे पढ़ें »

छह खिलाड़ियों के पॉजिटिव होने के बावजूद 19 से शुरू होगा राष्ट्रीय हॉकी शिविर

नयी दिल्ली : पुरूष हॉकी टीम के कप्तान मनप्रीत सिंह सहित छह खिलाड़ियों के कोविड-19 जांच में पॉजिटिव होने से अस्पताल में भर्ती होने के आगे पढ़ें »

ऊपर