…लाशों के बीच बना रहे थे संबंध

मध्यप्रदेश: मध्यप्रदेश से एक ऐसा मामला सामने आया है, जिसे सुनकर हर कोई दंग है। दरअसल इंदौर के महाराजा यशवंतराव अस्पताल के कुछ कर्मचारी लड़कियों संग शव गृह में मंगलवार रात आपत्तिजनक स्थिति में पाए गए। इस मामले का खुलासा तब हुआ जब कुछ लोग मुर्दाघर के एक कमरे में शव रखने के लिए पहुंचे। यहां उन लोगों ने कई लड़के-लड़कियों को आधे-अधूरे कपड़ों में पाया। ऐसे में कमरे से बाहर निकलते वक्त उन लोगों ने कर्मचारियों की लड़कियों संग तस्वीरे ले लीं और उन्हें सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया। बताया जा रहा है कि जब शव रखने गए लोगों ने लड़के-लड़कियों को टोका तो उन्होंने कहा कि तुम्हें इससे क्या मतलब। यहां से जाते हो कि नहीं या फिर हम बताएं। इन तस्वीरों के वायरल होने के बाद अस्पताल प्रशासन हरकत में आया और आरोपी कर्मचारियों को नौकरी से बर्खास्त कर दिया। यहां हैरानी की बात यह रही कि इस घटना की तस्वीरें वायरल होने से पहले इस बात की जानकारी ना तो प्रबंधन को थी और ना ही किसी कर्मचारी को। बता दें कि महाराजा यशवंतराव अस्पताल ने शव गृह की देखरेख का ठेका एक निजी कंपनी को दे रखा है। इस घटना के बाद अस्पताल के अधीक्षक पीएस ठाकुर ने आपत्तिजनक हरकत करने वाले कर्मचारियों को नौकरी से निकाल दिया। साथ ही कंपनी को नोटिस जारी कर जवाब मांगा गया है। वहीं, फोटो वायरल वालों का कहना है कि कंपनी के कर्मचारी ही शव गृह में रात को लड़कियां लेकर आते हैं। मुर्दा घर होने के चलते यहां ज्यादा कोई आता जाता नहीं है। इसलिए इन लोगों ने इस जगह को सेक्स रैकेट का अड्डा बना रखा है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

तृणमूल ने फिर 3 चरणों के चुनाव को 1 चरण में कराने की मांग की

सीईओ आरिज आफताब को सौंपा ज्ञापन सन्मार्ग संवाददाता कोलकाताः तृणमूल कांग्रेस ने एक बार फिर से कोरोना वायरस महामारी के मद्देनजर राज्य के तीन चरणों के मतदान आगे पढ़ें »

90 ड्राइवरों व गार्ड के संक्रमित होने के बाद लोकल ट्रेनों का संचालन प्रभावित

कोलकाता : पूर्व रेलवे ने मंगलवार को कहा कि 90 ड्राइवरों और गार्ड के कोरोना वायरस से संक्रमित होने के बाद उसने अभी तक सियालदह आगे पढ़ें »

ऊपर